World Heart Day 2020

29 सितंबर को क्यों मनाया जाता है World Heart Day, जानिए कारण और महत्व

विदेश हेल्थ

दिल की सेहत के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 29 सितंबर को वर्ल्ड हार्ट डे मनाया जाता है। इस खास दिन को मनाने की शुरुआत सबसे पहले साल 2000 में हुई थी। उस समय यह तय किया गया था कि हर साल विश्व हार्ट दिवस सितंबर माह के आखिरी रविवार को मनाया जाएगा लेकिन साल 2014 में इस खास दिन को मनाने के लिए 29 सितंबर की तारीख तय कर दी गई। इस दिन को मनाने के पीछे का उद्देश्य लोगों को दिल से जुड़ी बीमारियों के प्रति जागरूक करना है। आज के समय में गलत लाइफस्टाइल के चलते छोटी उम्र से लेकर बुजर्ग तक हृदय रोग से पीड़ित देखे जा सकते हैं। हृदय रोग पूरे विश्व में आज एक गंभीर बीमारी के तौर पर उभर करसामने आ रहा है। इस समय भारत में हर पांचवा व्यक्ति दिल का मरीज है।

वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन के अनुसार, हार्ट संबंधी बीमारियों से हार साल करीब 18 मिलियन लोगों की मौत होती है। 35 से ज्यादा उम्र के युवाओं में भी इनएक्टिव लाइफस्टाइल और खाने की खराब आदतों के कारण दिल की बीमारी होने का खतरा बढ़ रहा है। पिछले 5 साल में दिल की समस्याओं से पीड़ित लोगों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। इनमें से अधिकांश 30-50 साल आयु वर्ग के पुरुष और महिलाएं हैं। इस साल World Heart Day 2020 के लिए थीम ‘यूज हार्ट टू बीट कार्डियोवास्कुलर डिजीज’ रखी गई है।

सेहतमंद दिल के लिए लाइफस्टाइल में करें खास बदलाव

  • रोजाना कम से कम 30 मिनट के लिए एक्सरसाइज या योग जरूर करें।
  • वॉकिंग, साइकिलिंग और लिफ्ट की जगह सीड़ियों का इस्तेमाल करने की आदत डालें।
  • रेगुलर अपना हार्ट चेकअप जैसे ईसीजी-ईको-टीएमटी-सीएटी करवाते रहें।
  • नमक, चीनी और ट्रांस फैट वाली चीजें कम खाएं।
  • खाने में फल और सलाद को जरूर शामिल करें।
  • अल्कोहल का कम से कम इस्तेमाल करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *