मॉनसूनी राहत के बाद आसमानी आफत, आकाशीय बिजली ने UP-MP और राजस्‍थान पर बरपाया कहर, 75 की मौत

NEWS Top News प्राकृतिक आपदा राज्य

भारतीय मौसम विभाग (IMD) के उत्तर भारत में मानसून (Monsoon) को लेकर कई पूर्वानुमानों के गलत निकलने के बाद यूपी, बिहार और राजस्‍थान समेत कई राज्‍यों में मानसून की एंट्री हो गई है. हालांकि मानसूनी बारिश की वजह से लोगों को उमस और गर्मी से राहत तो मिली, लेकिन यूपी, राजस्‍थान और मध्‍य प्रदेश में कई जगह आकाशीय बिजली (Lightning) गिरने से करीब 75 लोगों की मौत हुई है. वहीं, मौसम विभाग के मुताबिक, आज यानी सोमवार को उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, छत्‍तीसगढ़, मध्‍य प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में भारी बारिश (Heavy Rain) होने के आसार बन रहे हैं.

बहरहाल, आकाशीय बिजली गिरने से उत्‍तर प्रदेश में सबसे अधिक नुकसान हुआ है और पिछले 24 घंटे में 40 लोगों ने जान गंवाई है. इस दौरान यूपी के कानपुर और आसपास के जिलों में 18, प्रयागराज में 13, कौशाम्बी में तीन, प्रतापगढ़ में एक, आगरा में तीन और वाराणसी व रायबरेली जिले में एक-एक व्यक्ति की जान चली गई. जबकि काफी संख्‍या में झुलसे लोगों को राज्‍य के विभिन्‍न अस्‍पतालों में भर्ती कराया गया है. यही नहीं, यूपी में आकाशीय बिजली की वजह से 50 से अधिक मवेशियों की भी मौत हुई है.

मानसून देरी होने के बाद पिछले 24 घंटे में राजस्‍थान की राजधानी जयपुर समेत कई जिलों में जोरदार बारिश हुई, लेकिन इस दौरान अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से 9 बच्चों समेत 22 लोगों की मौत होने की खबर है. इनमें 11 मौतें जयपुर, तो कोटा में 4 और धौलपुर में 3 बच्चों की मौत हो गई. इसके अलावा अलग-अलग जिलों में भी तीन लोग आकाशीय बिजली की चपेट में आने से अपनी जान गंवा बैठे हैं. यही नहीं, आकाशीय बिजली गिरने से मरने वालों का रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन जारी है और अगले कुछ घंटों में इसके सही आंकड़े आ सकते हैं. वहीं, मवेशियों की भी काफी संख्‍या में मौत हुई है.

READ MORE:   सत्र की तारीख तय होते ही बढ़ गया विधायकों की खरीद-फरोख्त का 'रेट'- CM गहलोत

मानसूनी बारिश के कारण मध्‍य प्रदेश के लोगों को उमस और गर्मी से तो राहत मिली, लेकिन आकाशीय बिजली के कारण 13 से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवाई है. इस दौरान मध्‍य प्रदेश के ग्वालियर में सबसे अधिक सात मौतें हुई हैं. हालांकि बिहार में पिछले 24 घंटें में किसी की मौत नहीं हुई है. वैसे मौसम विभाग ने पूर्वी और पश्चिमी चंपारण में भारी बारिश का अलर्ट जारी करने के साथ बिहार के अन्य जिलों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है. इसके अलावा राज्य के अधिकांश जिलों में गरज के साथ आकाशीय बिजली का अलर्ट जारी किया है. मौसम का उत्तर-पश्चिम बिहार में बड़ा असर देखा जा सकता है.

इसके अलावा हरियाणा, दिल्‍ली, हिमाचल प्रदेश, झारखंड और उत्‍तराखंड में आकाशीय बिजली का कहर देखने को नहीं मिला है. हालांकि उत्‍तराखंड के बागेश्वर जिले के कपकोट के सुमगढ़ में भारी बारिश के कारण मकान के ऊपर मलबा गिरने से तीन लोग के मरने की खबर आई है. वैसे मौसम विज्ञान केंद्र (देहरादून) ने प्रदेश में देर शाम से कुमाऊं और गढ़वाल रीजन में तेज बारिश की संभावना के साथ अल्मोडा, बागेश्वर, नैनीताल, पिथौरागढ़, देहरादून और टिहरी बारिश का अलर्ट जारी किया है.

मौसम विभाग के मुताबिक, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़ और दिल्ली में बिजली कड़कने के साथ 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा गति वाली तूफानी हवा चल सकती है. इसके अलावा हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में भी बिजली गिरने की संभावना जताई गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *