आकाशीय बिजली गिरने से जयपुर में 10 की मौत, कई लोग घायल

देश

कभी कभी कुदरत भी कहर बनकर टूटती है .उत्तर भारत में मानसून को लेकर अपने पूर्वानुमानों के लगातार गलत निकलने के बीच भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने एक बार फिर सोमवार की सुबह भारी बारिश होने की संभावना जाहिर की है। आईएमडी ने कहा कि सोमवार को दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में भारी से भी बेहद भारी बारिश होने के आसार बन रहे हैं। वहीं उत्तर प्रदेश और राजस्थान में बिजली गिरने से 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आकाशीय बिजली गिरने से मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। पीएमओ की ओर से जारी ट्वीट में लिखा है कि राजस्थान के कुछ इलाकों में आकाशीय बिजली गिरने से कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। इससे अत्यंत दुख हुआ है। मैं मृतकों के परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं।

उधर , तेज बारिश के दौरान प्रदेश में रविवार को बिजली गिरने से 44 लोगों की मौत हो गई, जबकि 47 झुलस गए। मृतकों में प्रयागराज में 14, कानपुर देहात व फतेहपुर में पांच-पांच, कौशांबी में चार, फिरोजाबाद व फतेहपुर में तीन-तीन, उन्नाव, सोनभद्र व हमीरपुर में दो-दो, प्रतापगढ़, कानपुर नगर, मिर्जापुर व हरदोई में एक-एक लोग शामिल हैं। इसके साथ ही 200 से अधिक मवेशियों की भी जान गई है।

मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को नियमानुसार अनुमन्य राहत राशि तत्काल वितरित किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। साथ ही घायल लोगों का समुचित उपचार कराने के भी निर्देश दिए हैं।

READ MORE:   4 जुलाई को ही देश में दस्तक दे चुकी है तीसरी लहर, देश के टॉप वैज्ञानिक का दावा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *