russia

रूस में राष्ट्रपति के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग,’पुतिन इस्तीफा दो’ के लगाएं नारे

विदेश

रूस में अचानक राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए हजारों सड़क उतर आए हैं। लोग राष्ट्रपति पुतिन के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ भड़के इस गुस्से की वजह रूस के पूर्व में एक लोकप्रिय गवर्नर सर्गेई फुरगाल की गिरफ्तारी है।

प्रदर्शनकारी सर्गेई फुरगाल की रिहाई को लेकर सड़कों पर उतरे हैं। दरअसल सर्गेई फुरगाल को कई हत्यायों के संदेह के चलते गिरफ्तार किया गया है। प्रदर्शनकारियों ने ‘पुतिन इस्तीफा दो’ के नारे भी लगाए। यह प्रदर्शन चीनी सीमा से सटे खबरोव्‍स्‍क और कई अन्‍य कस्‍बों में हुए हैं।

राष्ट्रपति पुतिन साल 2036 तक अपने पद बने रहेंगे। पुतिन के इतने लंबे समय पर कुर्सी पर बने रहने का रास्ता साफ होने के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने बड़े पैमाने पर विरोधियों के खिलाफ छापेमारी शुरू की है। गवर्नर सर्गेई फुरगाल की बात करें तो पुतिन के समर्थन वाले उम्मीदवार को हराकर चुनाव जीते थे। उन्हें स्थानीय जनता का समर्थन प्राप्त है।

रूस में पिछले कुछ दिनों में विरोधियों की गिरफ्तारी और उनके खिलाफ तलाशी अभियानों में तेजी आई है। हाल ही में एक रक्षा पत्रकार को जासूसी के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

वहीं रूस के जाने माने मानवाधिकार कार्यकर्ता मिखाइल खोदोरकोवस्‍की के घर पर भी छापा मारा गया था। जानकारी के अनुसार मिखाइल संविधान के खिलाफ प्रदर्शन की योजना बना रहे थे।

पुतिन के खिलाफ जिस इलाके में प्रदर्शन हो रहे हैं उसे रूस के बेहद शांतिप्रिय इलाका माना जाता है। शनिवार को हुए प्रदर्शनों में करीब हजार लोगों ने हिस्सा लिया। यह खबरोव्‍स्‍क कस्बे के इतिहास का सबसे बड़ा प्रदर्शन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *