weather forecast

दिल्ली यूपी में फिर होगी मूसलाधार बारिश,मौसम विभाग ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

NEWS Top News देश

मौसमी उतार-चढ़ाव के बीच सोमवार से बुधवार तक लगातार तीन दिन तक राजधानी दिल्ली में फिर से मूसलधार बारिश होने की संभावना है। देश के कई राज्यों में बाढ़ का सिलसिला जारी है, तो पहाड़ों पर भारी बारिश के बाद भूस्खलन से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। देश की राजधानी दिल्ली में शुक्रवार देर शाम हुई Rain के बाद से मौसम सुवाहना है। वहीं, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और मध्य प्रदेश में भी बारिश से Weather का मिजाज बदला है।

मौसम विभाग के अनुसार, आज यानी 25 जुलाई को भी दिल्ली-एनसीआर में हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं। मौसम अभी पूरी तरह शुष्क नहीं होगा। भारतीय मौसम विभाग विभाग ने 25-26 जुलाई को बारिश का पूर्वानुमान लगाया है। दिल्ली के साथ एनसीआर के शहरों में भी झमाझम बारिश हो सकती है।


मॉनसून की अक्षीय रेखा का पश्चिमी सिरा हिमालय के तराई क्षेत्रों पर पहुंच गया है। जबकि पूर्व में यह उत्तर प्रदेश के बहराइच और वाराणसी से बिहार में गया और पश्चिम बंगाल में बांकुरा तथा दिघा होते हुए बंगाल की खाड़ी के उत्तरी हिस्सों तक पहुंच गई है। मॉनसून ट्रफ के चलते अचानक गरज वाले बादल विकसित होने की वजह से कई क्षेत्रों में थोड़ी बहुत बारिश हो सकती है।


मौसम विभाग के अनुसार उत्तर प्रदेश के बदायूं, बुलंदशहर, मुरादाबाद, अमरोहा, नरौरा, गुलौटी, चंदौसी, संभल और आस-पास के इलाकों में 20-40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के साथ बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग के अनुसार पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल के ज्यादातर क्षेत्रों में हल्की से भारी बारिश हो सकती है। प्रदेश के अन्य इलाकों में भी हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि फिलहाल बारिश का क्रम बना हुआ है। ज्यादातर स्थानों पर रुक-रुककर बारिश का सिलसिला जारी है। बारिश की वजह से NH-7 पर भूस्खलन होने के बाद नेशनल हाईवे को बंद कर दिया गया है।

पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नगालैंड के कुछ हिस्सों, ओडिशा के कुछ भागों, उत्तर प्रदेश के उत्तर-पूर्वी भागों में हल्की से मध्यम बारिश संभव है। इसके अलावा पूर्वोत्तर भारत, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, आंतरिक महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों और पश्चिमी हिमालयी राज्यों में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब में एक दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है।

असम में बाढ़ की विनाशलीला थमने का नाम नहीं ले रही है। 26 जिलों के करीब 28 लाख लोग पानी से बेहाल हैं। विकराल हुई ब्रह्मपुत्र सबकुछ लील जाने पर आमादा है। वहीं, बिहार में बागमती नदी के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी होने के बाद समस्तीपुर के कल्याणपुर के 4 पंचायतों में कहर बरपाना शुरू कर दिया है। बागमती नदी खतरे के निशान से काफी ऊपर बह रही है।

यूपी के श्रावस्ती में राप्ती नदी उफान पर है। नेपाल में लगातार हो रही बारिश की वजह से राप्ती नदी में कटान तेज हो गया है। सड़क मार्ग टूट जाने से श्रावस्ती के कई गांवों में संकट बढ़ गया है। मध्य प्रदेश के सीहोर में शुक्रवार को दो घंटे की बारिश के बाद सड़क पर नदी बहने लगी। पानी की रफ्तार ऐसी कि कई बाइक्स भी बह गईं। वहीं, झारखंड के रामगढ़ में भैरवी नदी कहर ढा रही है। पुल के ऊपर से बहती नदी कई गांवों के लिए संकट बन गई है। मौसम विभाग के अनुसार अभी आगामी कुछ दिनों तक मॉनसून की बारिश का दौर जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *