Farmers Protest: वार्ता फिर हुई फेल, सरकार ने किसानों से दो टूक कहा- इससे बेहतर कुछ नहीं कर सकते

NEWS दिल्ली देश

केंद्र सरकार और किसान नेताओं के बीच 11वें दौर की बैठक खत्म हो गई है। ये बैठक भी बेनतीजा रही। किसानों और सरकारों के बीच तीन कृषि कानूनों पर गतिरोध बरकरार है। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने कहा कि इनसे बेहतर हम कुछ नहीं दे सकते। नए कृषि कानूनों में कोई कमी नहीं है। हमने किसानों के सम्मान में प्रस्ताव दिया था। वो अभी तक कोई निर्णय नहीं कर सके हैं। उन्होंने मीडिया के माध्यम से किसानों से कहा, ‘आप अगर किसी निर्णय पर पहुंचते हैं तो हमें सूचित करें। इस पर फिर हम चर्चा करेंगे।’ हालांकि कृषि मंत्री ने ये भी कहा कि अगली बैठक की कोई तारीख तय नहीं है।

इधर, किसान अपनी मांगं पर अड़े हुए हैं। सरकार के साथ 11वें दौर की वार्ता के बाद किसान नेता ने कहा कि सरकार द्वारा जो प्रस्ताव दिया गया था वो हमने स्वीकार नहीं किया। कृषि कानूनों को वापस लेने की बात को सरकार ने स्वीकार नहीं की है। अगली बैठक के लिए अभी कोई तारीख तय नहीं हुई है।

कृषि कानूनों को लेकर सरकार और किसानों के बीच तनातनी बरकरार है। आज 11वें दौर की बैठक से पहले विज्ञान भवन में एक किसान नेता ने हंगामा कर दिया। मौके पर मौजूद ज़ी न्यूज़ संवाददाता के अनुसार, विज्ञान भवन में एंट्री के वक्त सिक्योरिटी चेक होता है । इसी दौरान मीटिंग में आए एक किसान नेता ने सिक्योरिटी चेकिंग के दौरान अपना आपा खो दिया और अपनी ही गाड़ी का शीशा डंडा मारकर तोड़ दिया। शोर सुनकर BKU अध्यक्ष राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) मौके पर पहुंचे और उन्होंने बीच बचाव कराया।

READ MORE:   हरसिमरत कौर बादल की जगह नरेंद्र सिंह तोमर संभालेगें अतिरिक्‍त प्रभार

11वें दौर की बैठक से पहले किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि रास्ता सरकार के पास है। जब सरकार चाह लेगी इस समस्या का हल निकल जाएगा। वार्ता से किसानों को कोई दिक्कत नहीं है। 26 जनवरी परेड को लेकर टिकैत ने कहा, हमसे तो सरकार ने 26 जनवरी को लेकर कुछ भी नहीं कहा है। पुलिस के साथ आज भी बात होगी। टिकैत ने एक बार फिर दोहराया कि हम रिंग रोड पर ट्रैक्टर रैली जरूर निकलेंगे। कृषि मंत्री के साथ बैठक के मुद्दों को लकर कहा, बिल वापसी और MSP से कम पर कोई बात नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *