मोदी सरकार ने भारत बॉन्ड ETF को दी मंजूरी, दिसंबर में ही आ सकता है NFO

सरकार ने भारत बॉन्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) नाम से एक साझा निवेश कोष शुरू करने के प्रस्ताव को बुधवार को मंजूरी दी, इसमे यूनिटों में निवेश करने वालों का पैसा सार्वजनिक उपक्रमों और सरकारी संगठनों के बॉन्ड में लगाया जायेगा। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को यह निर्णय लिया। इस ईटीएफ के नये कोष की पेशकश (NFO) दिसंबर में ही पेश होने का अनुमान है। भारत बांड ETF देश में पहला कॉरपोरेट बॉन्ड ETF होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की मंजूरी मिलने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संवाददाताओं से कहा कि विस्तृत दायरे वाले इस ETF के सृजन तथा इसकी शुरुआत से हमें उम्मीद है कि निवेशकों का आधार बड़ा होगा। उन्होंने कहा कि जैसी घोषणा बजट में की गयी थी, यह देश में बॉन्ड बाजार के विस्तार में मदद करेगा। फिलहाल, सरकार की ओर से इस समय संचालित ETF में निवशकों का पैसा चुनिंदा सरकारी कंपनियों के शेयरों में लगाया जाता है। ऐसे कोष के यूनिट शेयर बाजारों में खरीदे बेचे जा सकते हैं।

सीतारमण ने इस बॉन्ड ETF के निर्णय के बारे में कहा कि इस कोष के शुरू होने पर सरकारी कंपनियों तथा अन्य सरकारी संगठनों के लिए अतिरिक्त धन जुटाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस ETF में सरकारी कंपनियों या किसी सरकारी संगठन द्वारा जारी किये गये बॉन्ड होंगे और इनका शेयर बाजारों में कारोबार किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि इसकी एक यूनिट का अंकित मूल्य एक हजार रुपये रखा जायेगा, ताकि इसमें छोटे निवेशक भी निवेश कर सकें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.