Cleanliness campaign eradicated encephalitis

स्वच्छता अभियान से हुआ इंसेफेलाइटिस का खात्मा- CM योगी

उत्तर प्रदेश देश हेल्थ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान से सामाजिक जीवन में व्यापक परिवर्तन हुआ है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के गोरखपुर बस्ती मंडल में 40 वर्षों से इंसेफेलाइटिस से मासूम बच्चे शिकार हो रहे थे। स्वच्छता अभियान से इस पर ऐसा कारगर अंकुश लगा कि जहाँ हर साल 500-600 मौतें होती थी वही इस बार सिर्फ छह मौतें हुई है। 99 प्रतिशत मौत कम हुई है।

मुख्यमंत्री रविवार को गोरखनाथ मंदिर में ब्रह्मलीन महंत अवेधनाथ की छठीं पुण्यतिथि पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 में प्रदेश में BJP की सरकार बनने के बाद इंसेफेलाइटिस के खिलाफ निर्णायक लड़ाई शुरू हुई। स्वच्छता अभियान और विभिन्न विभागों के अंतर समन्वय से कार्य शुरू हुए, जिसके बेहतर परिणाम मकासामने आ रहा है।

उन्होंने कहा कि ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ स्वच्छता के पक्षधर थे। उनका मानना था कि जीवन का पहला अनुशासन स्वच्छता से शुरू होता था। साफ-सफाई को लेकर वे सजग रहते थे। गोरखनाथ मंदिर में हर रोज कोने-कोने तक सफाई का जायजा लेते थे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपीठ के आचार्य महंत दिग्विजय नाथ और महंत अवेद्यनाथ ने लोक मंगल के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। अयोध्या में राम मंदिर के लिए उन्होंने संघर्ष किया था। 492 वर्ष बाद मंदिर का निर्माण प्रारम्भ हो गया है। दोनों संतों का संकल्प आज पूरा होते दिखाई दे रहा है। मंदिर निर्माण शुरू होने के अवसर पर गोरखनाथ मंदिर में राम कथा का आयोजन इसी ऊंचाई की एक कड़ी है।

उन्होंने कहा कि गोरखपीठ धार्मिक पीठ है। इसका मतलब सिर्फ पूजा-पाठ तक सीमित नही है। धर्म हमें सेवा से जोड़ेगा। लोक मंगल से जोड़ेगा। सदाचार और कर्तव्यपथ पर अग्रसर करेगा।
उन्होंने कहा कि महंत अवेद्यनाथ का संस्था, नाथ सम्प्रदाय, धर्म स्थलों और सनातन धर्म के प्रति स्पष्ट सोच थी। महंत अवेद्यनाथ की समाज, राजनीति और धर्म के बारे में कही गई हर बात आज शब्दश: सही साबित हो रही है। महंत अवेद्यनाथ कहते थे कि व्यक्ति की जैसी दृष्टि होगी ठीक वैसी सृष्टि होगी। व्यक्ति अक्सर नकारात्मक दृष्टि को अपनाता है। अगर उसको सकारात्मक दृष्टि में लाया जाए तो उसकी ऊर्जा लोकोपयोगी होगी।


कार्यक्रम में दिगम्बर अखाड़ा के महंत सुरेश दास, स्वामी राघवाचार्य, सांसद रवि किशन, कमलेश पासवान और शिव प्रताप शुक्ल, विधायक शीतल पांडेय, विपिन सिंह, राकेश सिंह बघेल, महापौर सीताराम जायसवाल, महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के अध्यक्ष प्रो.यूपी सिंह समेत कई लोगों ने ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *