CORONA

कोरोना को हराया है, विधानसभा चुनाव भी जीतेंगे-सीएम योगी

उत्तर प्रदेश देश

कोरोना वायरस के संक्रमण के भीषण संकट के बीच तमाम आशंकाओं के बीच उत्तर प्रदेश की करीब 24 करोड़ आबादी की जिम्मेदारी लेने वाले CM Yogi Adityanath अपेक्षित परिणाम मिलने के बाद काफी आशान्वित भी हैं। बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा 2022 के चुनाव को लेकर आत्मविश्वास भी जताया है। उन्होंने दो टूक कहा कि हमने Corona को हराया है और अब चुनाव भी जीतेंगे।

मुख्यमंत्री Yogi Adityanath के सामने अब 2022 में विधानसभा चुनाव की बड़ी परीक्षा भी है। इन जटिल परिस्थितियों में भी CM Yogi Adityanath अपनी जीत को लेकर पूरी तरह आशान्वित हैं, चाहें Corona का संकट हो या विधानसभा चुनाव। इस आत्मविश्वास के पीछे मजबूत रणनीति का आधार है। इस बीच वह अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय जाकर न सिर्फ धारणाओं को तोड़ते हैं, बल्कि वहां से भावनात्मक रिश्ते जोडऩे की पहल भी करते हैं और इसी आत्मविश्वास पर दावा भी करते हैं- ‘जैसे कोरोना को हराया है, वैसे ही अगला चुनाव भी जीतकर प्रदेश में फिर भाजपा की सरकार बनाएंगे।’


मुख्यमंत्री Yogi Adityanath ने बुधवार को वर्चुअल चर्चा में तमाम विषयों पर विस्तृत बात की और गंगा में शव उतराने को लेकर की जा रही सियासत और बनाई जा रही भयावह तस्वीर के बीच NVR24 की तथ्यपरक पत्रकारिता की जमकर सराहना करते हुए इसे राष्ट्रधर्म बताया। उन्होंने साफ कहा कि तमाम लोग जहां अफवाहें फैलाने, माहौल खराब करने में जुटे रहे, वहीं जागरण संस्कृति और राष्ट्रधर्म के साथ खड़ा रहा। गंगा नदी की पुरानी और वर्तमान तस्वीरों को प्रकाशित कर जनता के बीच फैले भ्रम को भी तोड़ा।
सैफई का दौरा योगी आदित्यनाथ की महीन राजनीति

READ MORE:   यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट की परीक्षा निरस्त

मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी के एकछत्र गढ़ सैफई का दौरा Yogi Adityanathकी महीन रणनीति समझाता है। पूरे सूबे को भेदभाव रहित राजनीति का संदेश और SP मुखिया के आंगन में ही उनकी निष्क्रियता पर तंज कसा कि आपने जिन्हें चुना, वह तो होम आइसोलेशन में हैं। उन्हें फुर्सत न हो, लेकिन बिना किसी भेदभाव के हम इस संकट में आपके साथ खड़े हैं।
देश के संसाधनों से बना है एएमयू

पिछले दिनों मुख्यमंत्री ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का दौरा किया था। खास वजह पूछे जाने पर कहते हैं कि यह विश्वविद्यालय भी देश के संसाधनों से बना है। मैं वहां जाने से क्यों वंचित रहूं। वहां जाना मेरी नैतिक जिम्मेदारी थी। हम तो प्रदेश में किसी एक जगह को अलग टापू बना नहीं रहने दे सकते।

तीसरी लहर से निपटने की तैयारी पूरी
कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर से निपटने की रणनीति साझा करने के साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि सरकार की तैयारी पूरी है। वहीं, विधानसभा की चुनावी तैयारी के विषय पर बोले कि सरकार और संगठन मिलकर सेवा कार्य कर रहे हैं। पंचायत चुनाव को जनाधार का पैमाना न मानते हुए उदाहरण दिया कि 2016 के पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी ने अपने लोगों को जितवा दिया, लेकिन 2017 में क्या परिणाम रहा, यह सब जानते हैं।
भ्रम फैलाने के अलावा कुछ न कर सका विपक्ष

किसी दल का नाम लिए बिना Yogi Adityanath ने देश-प्रदेश को बदनाम करने, भ्रम फैलाने के आरोप लगाते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। दो टूक कहा कि भारत की संस्कृति को कठघरे में खड़ा करने का कुत्सित प्रयास उन लोगों ने किया, जिनका इस संस्कृति से कोई लेना-देना नहीं है। देश को बदनाम करने का प्रयास देशद्रोह है। विपक्ष के दुष्प्रचार से नाराज योगी ने कांग्रेस की ओर पैना तीर छोड़ा- ‘गांवों में संक्रमण की अफवाह वह फैला रहे हैं, जो लुटियंस जोन से बाहर नहीं निकलते और शाम छह बजे के बाद बात करने की स्थिति में नहीं रहते।

READ MORE:   पूर्वी यूपी में गरज-चमक के साथ भारी बारिश की चेतावनी

सभी मंत्रियों ने किया अच्छा काम

सरकार में फेरबदल और कुछ मंत्रियों से नाराजगी के सवाल को CM Yogi Adityanath ने कतई खारिज कर दिया। बोले कि सभी मंत्रियों ने अपने-अपने क्षेत्रों में बेहतर काम किया। हमने टीम वर्क से ही सफलता हासिल की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *