Shri Ram Janam Bhoomi

4 और 5 अगस्त को होगा दीपोत्सव कार्यक्रम-सीएम योगी

उत्तर प्रदेश देश धर्म

अयोध्या में अफसरों के साथ मुख्यमंत्री Yogi Adityan Nath भूमि पूजन और प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर समीक्षा बैठक करेंगे। मुख्यमंत्री बड़े साधु-संतों से भी मुलाकात कर सकते हैं। मुख्यमंत्री Yogi Adityan Nath आज यानी शनिवार को अयोध्या पहुंचे। मुख्यमंत्री ने पहले हनुमानगढ़ी में दर्शन किया। Ayodhya में अफसरों के साथ मुख्यमंत्री Yogi Adityan Nath भूमि पूजन और प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर समीक्षा बैठक की।

मुख्यमंत्री ने साधु-संतों से भी मुलाकात की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 5 अगस्त को अयोध्या दौरा प्रस्तावित है। इसे देखते हुए भी मुख्यमंत्री तैयारियों का जायजा लिया। 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन है।


साधु-संतों के साथ मीटिंग खत्म होने के बाद सीएम Yogi Adityan Nath बस्ती के लिए रवाना हो गए हैं। वह रात में गोरखपुर रुकेंगे।सीएम Yogi Adityan Nath साधु-संतों के साथ बैठक कर रहे हैं। इस दौरान सीएम ने कहा कि 4 और 5 अगस्त को दीपोत्सव कार्यक्रम होगा। सीएम ने कहा कि सोशल डिस्टेनसिंग के साथ शुभ मुहूर्त में शामिल हों।


मुख्यमंत्री Yogi Adityan Nath मीटिंग करने कार्यशाला पहुंचे। मुख्यमंत्री Yogi Adityan Nath राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और साथ-साथ साधु संतों के साथ मीटिंग करेंगे। 5 अगस्त को Ayodhya के भूमि पूजन में प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर होगी चर्चा। लक्ष्मणजी, भरतजी और शत्रुघ्नजी नए आसन पर विराजमान कर दिए गए। राम जन्मभूमि में नए आसन पर हुए विराजमान। मुख्यमंत्री Yogi Adityan Nath ने किया पूजन अर्चन।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को अयोध्या आ सकते हैं। उनके भूमि पूजन में भी शामिल होने की संभावना है। उससे पहले की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री अधिकारियों से चर्चा करेंगे।


मुख्यमंत्री चाहते हैं कि कार्यक्रम में कुछ ऐसा हो की लोगों में इसका अलग संदेश जाए। मुख्यमंत्री खुद अधिकारियों और साधु-संतों से फीडबैक ले रहे हैं।

-मुख्यमंत्री खुद एक-एक जगह जाकर अधिकारियों से बात कर रहे हैं और भावी तैयारियों का जायजा ले रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने सबसे पहले हनुमान गढ़ी में पूजा-अर्चना की और अब इंतजामों का जायजा लेंगे।


अभी कुछ दिन पहले भी मुख्यमंत्री Ayodhya गए थे और वहां के विकास कार्यों का जायजा लिया था। Ayodhya नगरी के विकास के लिए बैठक में मौजूद सभी अधिकारियों को मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए और कहा कि चरणबद्ध तरीके से सभी काम समय पर पूरे किए जाएं।


5 अगस्त को Ayodhya में राम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन हो सकता है। इसमें प्रधानमंत्री को भी आमंत्रित किया गया है। हालांकि अभी उनके आने का कार्यक्रम तय नहीं है लेकिन उससे जुड़ी तैयारियों को तेजी से अंजाम दिया जा रहा है। कोरोना को देखते हुए लोग ज्यादा न जुटें, इसका भी ख्याल रखा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *