COVID 19 health ministry

खराब एयर क्वालिटी के कारण दिल्ली में बढ़े कोरोना के केस: सरकार

दिल्ली देश

दिल्ली में Covid-19 के मामले बढ़ने का कारण त्योहार के दौरान भीड़ का इकट्ठा होना, वायु गुणवत्ता खराब होना, श्वसन संबंधी बीमारियों का बढ़ना है। यह जानकारी गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक, स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने दिल्ली , पश्चिम बंगाल और केरल में स्थिति की समीक्ष बैठक की जिसमें नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल और ICMR के महानिदेशक बलराम भार्गव भी शामिल हुए।


मंत्रालय ने बताया कि दिल्ली में पिछले 4 हफ्ते में 29,378 नये मामले सामने आए जो करीब 46 फीसदी नये मामले हैं और पिछले 4 हफ्ते में सक्रिय मामलों की संख्या में करीब 9 % की बढ़ोतरी हुई है। इसने कहा, ‘‘त्योहार के दौरान भीड़भाड़, वायु गुणवत्ता खराब होने, श्वसन संबंधी बीमारियों में बढ़ोतरी और कार्यस्थल पर पॉजिटिव मामलों के कारण दिल्ली में Coronavirus के मामले बढ़े हैं।’’
तेजी बढ़ रहे मामलों को देखते हुए केंद्र ने दिल्ली, केरल और पश्चिम बंगाल को सलाह दी कि त्योहारों के मौसम में वे Coronavirus की जांच, निगरानी और उपचार रणनीति पर जोर दें तथा कोविड-19 संबंधी उपयुक्त आचरण के साथ ही लोगों में जागरूकता पैदा करने पर अतिरिक्त बल दें।

पश्चिम बंगाल में एक दिन में 3,924 नए मामले सामने आए हैं और राज्य में अभी 37,111 मरीज इलाजरत हैं। वहां मृत्यु दर 1.84 प्रतिशत और संक्रमण की दर 8.3 प्रतिशत है।

मंत्रालय ने कहा कि राज्य के अधिकारियों को सलाह दी गई है कि ‘‘जांच, निगरानी और इलाज’’ की रणनीति का सख्ती से पालन करें तथा जांच को लेकर कोई समझौता नहीं करें और आरटी-पीसीआर परीक्षणों पर अधिक जोर दें. उसने कहा कि देखभाल और प्रारंभिक पहचान के साथ ही मरीजों को जल्दी अस्पताल में भर्ती कराने के लिए एक उचित मानक सुनिश्चित करने की सलाह दी गई है।

केरल में भी बढ़ें हैं केस
केरल में भी Coronavirus के मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। राज्य में पिछले 14 दिनों में 98,778 मामले सामने आए जबकि 24 घंटों में 8,790 मामले दर्ज किए गए।

बयान के अनुसार त्योहारों के कारण नए मामलों में वृद्धि गंभीर चिंता का विषय है और केरल को सूचना, शिक्षा और संचार (आईईसी) प्रथाओं को बढ़ाने तथा मास्क पहनने पर अधिक जोर देने का सुझाव दिया गया है।


दिल्ली में, पिछले 4 हफ्तों के दौरान नए मामलों में करीब 46 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है और इसी अवधि के दौरान संक्रमण दर में करीब 9% की वृद्धि हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *