‘मां सीता, रावण के देशों में पेट्रोल-डीज़ल राम के देश भारत से सस्ता क्यों?’

REVIEWS Special Report ऑटोमोबाइल देश

देश में पिछले दो महीनों में लगातार कुछ-कुछ अंतराल में ईधन तेलों के दामों में लगातार वृद्धि हुई है। पेट्रोल-डीजल के दामों में इतनी बढ़ोतरी हुई है कि 10 फरवरी, 2021 की तारीख में पेट्रोल-डीजल हाल के वक्त अपने अपने ऑल-टाइम हाई रिकॉर्ड पर बिक रहा है। हालांकि, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बुधवार को तेल के दामों पर बढ़ रहे सवालों पर जवाब देते हुए कहा कि ‘ऐसा कहना ठीक नहीं है कि फ्यूल अपने ऑल-टाइम हाई पर चल रहा है।’ उन्होंने पड़ोसी देशों से हो रही तुलना पर भी जवाब दिया।

दरअसल, समाजवादी पार्टी के सांसद विशंभर प्रसाद निषाद ने पेट्रोलियम मंत्री से राज्यसभा में पूछा कि ‘सीता माता की धरती नेपाल में पेट्रोल डीजल भारत से सस्ता है। रावण के देश श्रीलंका में भारत से कम कीमत है। तो क्या राम के देश में सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम कम करेगी?’

इस पर पेट्रोलियम मंत्री ने जवाब दिया, ‘इन देशों के साथ भारत की तुलना करना गलत है क्योंकि वहां समाज के कुछ लोग इसका उपयोग करते हैं। केरोसिन की कीमत में भारत और इन देशों में काफी अंतर है। बांग्लादेश नेपाल में केरोसिन लगभग ₹57 से ₹59 में मिलता है जबकि भारत में केरोसिन की कीमत ₹32 प्रति लीटर है।’

उन्होंने तेल के दामों को ऑल-टाइम हाई बताए जाने को ‘असंगत’ बताया। प्रश्नकाल में उनसे कांग्रेस के सांसद केसी वेणुगोपाल ने पूछा कि ‘देश में पेट्रोल-डीजल की की कीमतें ऑल-टाइम हाई हैं, लेकिन क्रूड के दाम ऑल-टाइम हाई नहीं है। मेरे देश में पेट्रोल 100 रुपए के करीब पहुंच रहा है। एक्साइ़ज़ ड्यूटी को कितनी बार बढ़ाया गया है?’इसपर प्रधान ने जवाब दिया, ‘आज इंटरनेशनल क्रूड ऑयल का प्राइस 61 डॉलर चल रहा है। आज हमें टैक्स के मसले बहुत ध्यान से हैंडल करने पड़ते हैं।’

READ MORE:   सरकार के फैसलों में कांग्रेस की कोई भूमिका नहीं-राहुल गांधी

उन्होंने बताया कि ‘पिछले 300 दिनों के अंदर 60 दिन ऐसे हैं, जब कीमतें बढ़ाई गई थीं, पेट्रोल की कीमतें 7 दिन घटाई गईं, वहीं डीजल के दाम 21 दिन घटाए गए। लगभग 250 दिन ऐसे हैं, जब कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया। यह कहकर कैंपेन करना कि पेट्रोल-़डीजल के दाम ऑल-टाइम हाई हैं, असंगत है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *