जिसे पाला, उसी तालिबान से टकराव, काबुल के लिए फ्लाइट्स कीं बंद; जानिए क्या मामला

NEWS विदेश

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) ने गुरुवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के लिए उड़ानें निलंबित कर दी हैं। पीआईए ने यह फैसला तालिबान अधिकारियों की ओर से टिकट की कीमतों पर उठाए गए सवाल के बाद लिया है। दरअसल, तालिबान सरकार ने काबुल से नियमित रूप से संचालित होने वाली एक मात्र अंतरराष्ट्रीय कंपनी पीआईए को टिकटों में कटौती करने को कहा था।

PIA ने कहा है कि तालिबानी अधिकारियों की सख्ती के कारण हम आज से काबुल के लिए अपने उड़ान संचालन को निलंबित कर रहे हैं। इससे पहले, तालिबान ने पीआईए और अफगानी कंपनी काम एयर को चेतावनी दी थी कि जब तक वे टिकटों की कमी में कटौती करने पर सहमत नहीं होते हैं तो उन्हें बंद किया जा सकता है।

तालिबान के कब्जे के बाद से अधिकांश अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस अब अफगानिस्तान के लिए उड़ान नहीं भरती हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक काबुल से पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के लिए उड़ान भरने वाली फ्लाइटों का 2500 डॉलर तक के टिकट हैं, जबकि पहले यह 120 से 150 डॉलर था। अफगानिस्तान परिवहन मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि टिकटों के दाम पहले की ही तरह होने चाहिए नहीं तो उड़ानें रोक दी जाएंगी।

PIA ने कहा कि जब से नई तालिबान सरकार बनी है, काबुल में उसके कर्मचारियों को नियमों और उड़ान अनुमतियों में अंतिम क्षणों में बदलाव और तालिबान कमांडरों के बेहद डराने वाले व्यवहार का सामना करना पड़ा है। पीआईए ने यह भी दावा किया कि उसके देश के प्रतिनिधि को एक जगह घंटों तक बंदूक की नोक पर रखा गया था। काबुल में पाकिस्तान दूतावास के हस्तक्षेप के बाद उसे मुक्त कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *