Agneepath Scheme protest

Agneepath Scheme protest:बिहार में बंद हुआ इंटरनेट तो यूपी बॉर्डर पहुंचे युवा

बिहार में सेना भर्ती की अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme protest) के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन द्वारा राज्य के कई जिलों में इंटरनेट (Internet) के सेवाएं 21 जून तक के लिए बंद कर दी गई है। ऐसे में इन जिले के लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। बक्सर जिले में इंटरनेट सेवाओं पर रोक (Internet Ban) है। ऐसे में यहां के लोग इंटरनेट (Internet) की सुविधा के लिए उत्तर प्रदेश के बॉर्डर तक पहुँच रहे है।

बलिया और गाजीपुर के टावर से नेटवर्क
अग्निपथ योजना को लेकर इंटरनेट (Internet) की सुविधा बंद होने के कारण बक्सर के युवा यूपी बॉर्डर के गंगा घाटों पर इंटरनेट (Internet) का इस्तेमाल करने के लिए पहुँच रहे हैं। यहां घाटों पर हजारों की संख्या में पहुंचे लोगों को बलिया और गाजीपुर के टावर से नेटवर्क मिल रहा है।

घाटों पर लोगों का जमावड़ा
बक्सर के छोटे बड़े घाटों पर शाम 4 बजे से युवाओं की भीड़ लगनी शुरू हो जाती है। घाट के पास गाड़ियों की लंबी कतार लग जाती है। यहां सुबह के वक्त भी घाटों पर लोगों का जमावड़ा होता है। घाट पर इतनी भीड़ होने की वजह से ऐसा प्रतीत होता है जैसे कोई मेला लगा हो।

यूपी के नेटवर्क का इस्तेमाल
यहां गंगा किनारे पर दोनों राज्यों का मोबाईल नेटवर्क मिलने लगता है जिसके बाद लोग अपने मोबाईल की सेटिंग बदल कर यूपी का नेटवर्क इस्तेमाल करने लगते है। एक वक्त था जब एक राज्य का नंबर दूसरे राज्य में इस्तेमाल करने पर रोमिंग चार्ज देना पड़ता था। लेकिन अब ऐसी कोई समस्या नहीं होने के कारण लोगों की मौज हो गई है। बिहार के कई अन्य जिलों में भी लोग एक जिले से दूसरे जिले इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए अपनी गाड़ियों से पहुँच रहे हैं।

21 जून तक इंटरनेट सेवा बंद
अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) को लेकर राज्य के ज्यादातर जिलों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। युवा प्रदर्शन के लिए वॉट्सऐप, मैसेंजर, ट्विटर और फेसबुक जैसे सोशल साइट्स की मदद से विरोध की जगह तय करके इकट्ठे होते है और फिर उग्र प्रदर्शन शुरू हो जाता है। ऐसे में प्रशासन ने इंटरनेट की सुविधा पर रोक लगाने का फैसला लिया है। इंटरनेट (Internet) की सुविधा राज्य के कई जिलों में 21 जून तक के लिए ठप है।