फोन टेपिंग में बीजेपी-कांग्रेस आमने सामने, गृह मंत्रालय ने राज्य के प्रमुख सचिव से मांगी रिपोर्ट

Top News राजस्थान राज्य

राजस्थान की राजनीति में जारी महाभारत शांत होने का नाम नहीं ले रही है। अब खबर है कि इस सियासी उठापटक के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने फोन टेपिंग मामले में राज्य के मुख्य सचिव से रिपोर्ट मांगी है। बताया जा रहा है कि गृह मंत्रालय कथित रूप से लीक हुई ऑडियो बातचीत मामले पर कड़ी नजर रख रहा है, जिसकी राजस्थान पुलिस जांच कर रही है।

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस पर तीखा हमला बोलते हुए BJP ने इस पूरे मामले पर CBI जांच की मांग की है। आपको बता दें कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि ऑडियो राजस्थान में गहलोत सरकार को गिराने के लिए संजय जैन के साथ भंवर लाल शर्मा की बातचीत की है। ये करीब 30 विधायकों को लेकर की गई है जिसमें भंवर लाल शर्मा और संजय जैन एक दूसरे से बात कर रहे हैं। इस ऑडियो क्लिप की जांच के लिए एसओजी की टीम मानेसर भी पहुंची थी लेकिन भंवरलाल शर्मा नहीं मिले। अब कांग्रेस ये भी आरोप है कि बीजेपी ने स्वीकार कर लिया कि उसने विधायकों की खरीद-फरोख्त की है।

आपको बता दें कि जिस टेप को लेकर कांग्रेस पार्टी बीजेपी का पर्दाफाश करने का दम भर रही थी, उलट अब बीजेपी ने ही कांग्रेस पर सवाल दाग दिए हैं। इस बाबत बीजेपी नेता संबित पात्रा ने का कहना है कि राजस्थान सरकार सबकी प्राइवेसी का हनन कर रही है। जब राज्य में लोग कोरोना काल में वेंटिलेटर के लिए तरस रहे हैं तो कांग्रेस विधायक स्विमिंग पूल में स्विमिंग कर रहे हैं। इसके साथ ही अपने प्रेस वार्ता में संबित पात्रा ने फोन टेपिंग मामले में सीबीआई जांच की मांग करते हुए आगे कहा कि इस बात की जांच होनी चाहिए कि इस पूरे मामले में मानक प्रक्रिया का पालन किया गया था या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *