सितंबर तक 366 यूनिवर्सिटी में होंगे फाइनल एग्जाम- UGC, कई राज्यों ने किया विरोध

देश शिक्षा

कोरोना महामारी की वजह से इस साल सभी स्तर की परिक्षाएं प्रभावित हुई है। जहां इस बार 10वीं और 12वीं की बोर्ड परिक्षा के परिणामों में देरी हुई तो वहीं ऐसी कई ग्रेजुएशन और पोस्ट-ग्रेजुएशन समेत प्रवेश परिक्षाओं की भी तारीखों को टाल दिया गया। लेकिन अब खबर है कि अगस्त या सितंबर में ग्रेजुएशन और पोस्ट-ग्रेजुएशन की फाइनल परिक्षा हो सकती है।

बता दें देश भर की 755 यूनिवर्सिटी में से 366 यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (यूजीसी) की रिवाइज्ड गाइडलाइंस के मुताबिक, फाइनल इयर के एग्जाम अगस्त या सितंबर में कारने की योजना बना रही हैं। अपनी रिवाइज्ड गाइडलाइंस में यूजीसी ने अनिवार्य रूप से सितंबर तक फाइनल इयर के एग्जाम कराने का निर्देश दिया है। बता दें यूजीसी के इस फैसले का छात्रों और शिक्षकों ने जमकर विरोध किया है। लेकिन इन सब के बीच यूजीसी अब भी इन परीक्षाओं के आयोजन के पक्ष में है। इसके लिए विश्व विद्यालयों को परीक्षा के तीन मोड ऑनलाइन, ऑफलाइन, ऑनलाइन-ऑफलाइन का मिला-जुला मोड, में से कोई मोड चुनना है।

सूत्रों की माने तो दिल्ली, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु समेत कई राज्यों ने रिवाइज्ड गाइडलाइंस का विरोध किया है और फाइनल इयर के छात्रों के लिए परीक्षा नहीं कराने का फैसला लिया है। इसके साथ ही दिल्ली, पश्चिम बंगाल, पंजाब और तमिलनाडु के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर इन गाइडलाइंस को वापस लेने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *