लॉकडाउन के शुरुआती चार हफ्ते में आठ लाख से ज्यादा प्रवासी छोड़कर गए दिल्ली

Special Report दिल्ली देश

कोरोना महामारी (Corona Virus) से देश और पूरी दुनिया प्रभावित हुई है. संक्रमण की दूसरी लहर को फैलने से रोकने के लिए दिल्ली (Delhi) में लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के पहले चार हफ्ते में आठ लाख से अधिक प्रवासी (Migrant) राजधानी को छोड़कर अपने गृह राज्य चले गए हैं. यह जानकारी दिल्ली परिवहन विभाग की एक रिपोर्ट में दी गई. रिपोर्ट में बताया गया कि 19 अप्रैल से 14 मई के बीच आठ लाख सात हजार 32 प्रवासी कामगार दिल्ली से बसों से अपने गृह राज्यों के लिए रवाना हुए. इनमें से 3,79,604 प्रवासी लॉकडाउन के पहले हफ्ते में रवाना हुए. इसके बाद से इस संख्या में कमी आई और दूसरे हफ्ते में 2,12,448 प्रवासी जबकि तीसरे हफ्ते में 1,22,490 और चौथे हफ्ते में 92,490 यात्री अपने घरों को रवाना हुए.

रिपोर्ट में बताया गया कि लगभग आठ लाख प्रवासियों को बिना दिक्कत के उने घरों तक पहुंचने के लिए दिल्ली की सरकार ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सहित पड़ोसी राज्यों के परिवहन अधिकारियों के साथ समय रहते समन्वय किया. इसमें बताया गया कि लॉकडाउन के पहले चार हफ्ते के दौरान बसों ने 21,879 अंतरराज्यीय (इंटर स्टेट) फेरे लगाए.

इसमें बताया गया कि वर्तमान लॉकडाउन में प्रवासियों ने ‘ट्रेन से यात्रा’ को तरजीह दी क्योंकि इस वर्ष लॉकडाउन के दौरान रेलगाड़ियों का संचालन जारी था.

धीरे-धीरे दिल्ली में अब कोरोना की रफ्तार कमजोर पड़ रही है. पिछले एक हफ्ते से हर दिन कोरोना संक्रमण के मामले घट रहे हैं. इससे लोगों ने राहत की सांस ली है. पिछले 24 घंटे में एक अप्रैल के बाद सबसे कम 2260 नए केस मिले हैं. वहीं, इस दौरान 182 लोगों की इस बीमारी से मौत हुई है. यह संख्या 18 अप्रैल के बाद सबसे कम है. अब दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट घटकर 3.58 प्रतिशत हो गया है. यह भी एक अप्रैल के बाद सबसे कम है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *