Coronavirus cases in us

अमेरिका में फिर बेकाबू हुआ कोरोना, 15 राज्यों में हेल्थ सिस्टम बेपटरी!

Corona Updates NEWS विदेश

अमेरिका (America) में एक बार फिर कोरोना (Coronavirus In America) पांव पसार रहा है. टीकों की मौजूदगी के बाद भी यहां एक बार फिर अस्पतालों पर कोरोना के मरीजों का बोझ बढ़ रहा है. अमेरिकी स्वास्थ्य और मानव सेवा विभागके आंकड़ों के अनुसार, देश के कई हिस्सों में देखा गया कोविड -19 के मामले पिछले साल नवंबर की तरह ही बढ़ रहे हैं. समाचार एजेंसी ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में बताया गया है कि कोविड -19 के पुष्ट या संदिग्ध मामलों वाले मरीजों को एक साल पहले की तुलना में 15 राज्यों में अधिक आईसीयू बेड की जरूरत पड़ रही है. देश स्थित कोलोराडो, मिनेसोटा और मिशिगन में अब तक ICU में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या क्रमशः 41, 37 और 34 फीसदी है.

मिशिगन में प्रति व्यक्ति सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. हालांकि राज्य में अभी तक कोई प्रतिबंध नहीं जारी किया गया है. राज्य की प्रशासनिक इकाईयां सभी को मास्क पहनने और टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित कर रही हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन के इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स एंड इवैल्यूएशन के प्रोफेसर अली मोकदाद ने कहा, ‘हमारे कई चिकित्सक लगातार अस्पताल में हैं. आईसीयू, इमरजेंसी और अस्पताल में रहकर किसी ऐसे शख्स को मरते हुए देखना आसान नहीं है जिसने अब तक टीका नहीं लगवाया.’

कोरोना मरीजों को आईसीयू बेड्स की जरूरत की वजह से अन्य बीमारियों से पीड़ित मरीजों को बेड नहीं मिल पा रहा है. जो उनके लिए अधिक घातक है. दो महीने तक कोरोना संक्रमण मामलों के घटने के बाद एक बार फिर बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. यह मामले में भी डेल्टा वैरिएंट की वजह से सामने आ रहे हैं. बताया गया कि ठंड के मौसम की वजह से लोग घरों में ही हैं. विशेषज्ञों के अनुसार, टीकों से सुरक्षा कम हो रही है ऐसे में इस सर्दी महामारी की एक और बड़ी लहर का सामना कर सकता है.

READ MORE:   मास्क लगाने की नसीहत देने पर भीड़ ने पुलिसकर्मियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

उधर कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अमेरिकी स्वास्थ्य एजेंसियां एक बार फिर लोगों को टीके की सुरक्षा देना चाहती हैं. ऐसे में अमेरिकी स्वास्थ्य एजेंसियों ने कोरोना रोधी टीकों के बूस्टर डोज लगाने की अनुमति दे दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *