Ayodhya Ram Mandir: 15 जनवरी तक शुरू हो जाएगा निर्माण, परिसर में बनेगी वैदिक सिटी

NEWS उत्तर प्रदेश देश धर्म

रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण शुरू होने की आस 15 जनवरी तक पूर्ण होने के आसार हैं। यह जानकारी रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोवि‍ंददेव गिरि ने दी। वे सर्किट हाउस में राम मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक के समापन अवसर पर मीडिया से मुखातिब थे।

उन्होंने बताया कि नींव की ड्राइंग की अंतिम रिपोर्ट विशेषज्ञ तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को 15 दिसंबर तक सौंप देंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर मानचित्र बनेगा और अगले एक माह में यानी 15 जनवरी तक मंदिर निर्माण प्रारंभ हो जायेगा। तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष ने दो दिवसीय बैठक के नतीजे को बेहद उत्साहित करने वाला बताया। उन्होंने कहा कि बैठक में प्रस्तावित मंदिर के परकोटे के भीतर निर्माण की योजना के साथ परकोटे के बाहर यानी रामजन्मभूमि परिसर के बाकी 65 एकड़ भूमि पर विकास कार्यों की समीक्षा की गयी। गोवि‍ंददेव ने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राम मंदिर के अलावा रामजन्मभूमि परिसर को वैदिक सिटी के रूप में विकसित करना चाहते हैं और हमारे लिए उनका यह प्रयास अत्यंत स्वागतयोग्य है।

ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष ने कहा कि CM के प्रयासों के अनुरूप हम भी चाहते हैं कि रामजन्मभूमि परिसर कल्चरल कैपिटल ऑफ दी वल्र्ड के रूप में विकसित करें और अयोध्या श्रीराम की गरिमा के अनुरूप विश्व की सांस्कृतिक राजधानी बने। इससे पूर्व राम मंदिर निर्माण समिति की बैठक के दूसरे दिन मंदिर निर्माण की प्रक्रिया पर गंभीर मंथन किया गया। बैठक में निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र, रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोवि‍ंददेव गिरि, सदस्य डॉ. अनिल मिश्र, राम मंदिर के मुख्य शिल्पी सीके सोमपुरा के पुत्र आशीष सोमपुरा सहित एल एंड टी, टाटा कंसल्टेंट इंजीनियर्स के प्रतिनिधि तथा भवन निर्माण के क्षेत्र से जुड़े कई दिग्गज विशेषज्ञ मौजूद रहे। बैठक में टेस्ट पाइलि‍ंग की जांच से संबंधित रिपोर्ट के साथ मंदिर की नींव की मजबूती के लिए गहन विचार-विमर्श किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *