Case against Vaccinator

Vaccinator Negligence: बड़ी लापरवाही, एक ही सीरिंज से 39 विद्यार्थियों को दे दी कोविड-19 वैक्सीन

एक ओर जहां लोग कोरोना (Corona) महामारी और मंकीपाक्स जैसी संक्रामक बीमारियों से जूझ रहे हैं वहीं एक कंपाउंडर की बड़ी लापरवाही सामने आई है जिसमें 35 से अधिक बच्चों को एक ही सीरिंज से कोरोना वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) लगाने का मामला हतप्रभ करने वाला है। ऐसा मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के सागर स्थित एक प्राइवेट स्कूल में हुआ है।

पुलिस के पास दर्ज हुआ मामला
जितेंद्र अहीरवार नामक कंपाउंडर ने एक ही सीरिंज से 39 बच्चों को कोरोना वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) की डोज दे डाली। मामले में पुलिस के पास प्राथमिकी दर्ज करा दिया गया है। कुछ बच्चों के पैरेंट्स का ध्यान इस ओर गया कि बच्चों को एक ही सीरिंज से वैक्सीन दिया जा रहा है। इसके तुरंत बाद इस बड़ी लापरवाही का मामला पुलिस के पास पहुंचा।
मेगा वैक्सीनेशन ड्राइव के दौरान कंपाउंडर ने की घोर लापरवाही
यह मामला सागर के जैन हायर सेकेंडरी स्कूल का है। मेगा वैक्सीनेशन ड्राइव के दौरान यह घटना हुई। जिला अधिकारी ने बताया कि लापरवाही करने वाले कंपाउंडर की पहचान जितेंद्र अहिरवार के तौर पर की गई और उसके खिलाफ FIR दर्ज करा दिया गया। 15 साल से अधिक उम्र वाले कक्षा नवीं से 12वीं की कक्षाओं में पढ़ रहे 39 बच्चों को कोरोना वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) दी जा रही थी। मामला सामने आते ही पैरेंट्स ने विरोध करना शुरू कर दिया।
मामले की पड़ताल कर रहे CMHO
सागर के इंचार्ज कलेक्टर ने इस मामले की पड़ताल की जिम्मेवारी क्षितिज सिंघल (Kshitij Singhal) और डिस्ट्रिक्ट चीफ मेडिकल एंड हेल्थ आफिसर (CMHO) डा. डीके गोस्वामी को सौंप दिया। मौके पर मौजूद लोगों ने गोस्वामी को बताया कि वैक्सीन देने वाले कंपाउंडर ने 39 बच्चों को एक ही सीरिंज से कोरोना वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) की डोज दी है। पैरेंट्स के प्रदर्शन के बाद CMHO स्कूल पहुंचे लेकिन तब तक अहीरवार वहां से निकल गया था। आरोपी ने अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया है।

गोपाल गंज पुलिस स्टेशन में मामला सेक्शन 336 (rash or negligent act endangering human life or personal safety of others) के तहत दर्ज किया गया है। बता दें कि स्वास्थ्य अधिकारियों ने उन 39 बच्चों की जांच की और इनके रिपोर्ट के अनुसार 19 बच्चे स्वस्थ है और बाकी बच्चों के रिपोर्ट अभी आने हैं।