वियतनाम में मिले कोरोना के नए वेरिएंट ने बढ़ाई चिंता, हवा में बेहद तेजी से फैलता है

दुनियाभर में एक ओर जहां कोरोना वायरस का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है, वहीं वियतनाम में मिले कोरोना के एक नए वेरिएंट ने चिंता को और बढ़ा दिया है. वियतनाम के स्वास्थ्य मंत्री विएन टान लॉन्ग ने शनिवार को इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि वियतनाम में कोरोना वायरस का एक नया वेरिएंट पाया गया है. इससे पहले ब्रिटेन, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका और भारत में कोरोना के वेरिएंट मिल चुके हैं.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, वियतनाम में कोरोना वायरस का जो वेरिएंट मिला है, वह भारत और ब्रिटेन में पाए गए वेरिएंट का ही मिलता-जुलता रूप है, लेकिन सबसे चिंता की बात यह है कि दूसरे वेरिएंट्स के मुकाबले यह हवा के माध्यम से कहीं ज्यादा तेजी से अपने पांव पसारता है.

पिछले साल आई कोरोना वायरस की पहली लहर को रोकने में वियतनाम सफल रहा था, लेकिन इस बार इस वायरस से यहां भी अपना असर तेजी से दिखाना शुरू कर दिया है और इसे रोकने के लिए सरकार काफी कोशिश कर रही है. एजेंसी के अनुसार अप्रैल माह के आखिर सप्ताह में वियतनाम के 63 में से 31 शहरों में कोरोना संक्रमण 3600 मामले सामने आए थे, जो कि पूरे देश के कुल कोरोना मामलों का 50 फीसदी है.

रॉयटर्स ने वियतनाम के स्वास्थ्य मंत्री के हवाले से कहा, ‘हाल में हमने कोरोना वायरस से संक्रमित कुछ मरीजों से कोविड-19 के नमूने लेकर जीनोम सीक्वेन्सिंग की थी. इस दौरान हमें एक नए किस्म का वैरिएंट मिला है. यह भारत और ब्रिटेन में मिले वैरिएंट का मिला-जुला रूप है.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यहां मिला वायरस का वैरिएंट भारत में मिले वैरिएंट की तरह है, लेकिन इसमें जो म्यूटेशन देखे गए वो ब्रिटेन के वैरिएंट में पाए गए थे.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जल्द ही सभी को इस वैरिएंट के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी. वियतनाम में मिले कोरोना वायरस के इस नए वैरिएंट से पहले यहां सात वैरिएंट्स पाए जा चुके हैं, जिसमें भारत और ब्रिटेन में मिला वैरिएंट भी शामिल है. भारत में मिले कोरोना वैरिएंट को B.1.617.2, जबकि ब्रिटेन में मिले वैरिएंट को B.1.1.7 नाम दिया गया है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.