Firing on Wrestling arena

रोहतक: कुश्‍ती अखाड़े में ताबड़तोड़ फायरिंग, 2 कोचों और एक महिला पहलवान सहित 5 की मौत

क्राइम देश हरियाणा

शहर के एक कुश्‍ती अखाड़े में अचानक फायरिंग से हड़कंप मच गया। जाट कॉलेज के पास एक अखाड़ा में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में पांच लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए। मारे गए लोगों में तीन कुश्‍ती कोच और एक महिला पहलवान शामिल हैं । घटना में मारी गई महिला पहलवान उत्‍तर प्रदेश के मथुरा की बताई जाती है। घटना का कारण पुरानी रंजिश को बताया जा रहा है। घायलों को निकट के अस्‍पतालों में भर्ती कराया गया है। फायरिंग एक कुश्‍ती कोच सुखमेंद्र ने अपने कुछ साथियों के साथ की है।


जानकारी के अनुसार, देर शाम जाट कॉलेज के पीछे स्थित अखाड़े में कुछ अज्ञात हमलावर घुसे और उन्‍होंने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें अखाड़ा संचालक और उसकी पत्‍नी सहित 5 लोगों की मौत हो गई। कई अन्य के घायल होने की सूचना है। वारदात की सूचना मिलने पर शहर में हड़कंप मच गया। पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और वारदात स्थल का जायजा लिया।

मृतकों में अखाड़े का संचालक सोनीपत के सरगथला गांव निवासी मनोज कुमार, उसकी पत्‍नी साक्षी, कुश्‍ती कोच सतीश दलाल मंडौती, महिला पहलवान पूजा और प्रदीप मलिक मोखरा शामिल हैं। महिला पहलवान पूजा उत्‍तर प्रदेश के मथुरा की रहने वाली बताई जाती है। इसके साथ ही मनोज का तीन साल के बेटा सरताज और कुश्‍ती कोच अमरजीत सहित कई लोग घायल हैं।
जानकारी के अनुसार देर शाम में जाट कॉलेज के पास अखाड़े अचानक फायरिंग होने लगी।

फायरिंग की आवाज से पूरा इलाका कांप उठा और अखाड़े में चीख-पुकार मच गई। शुक्रवार की देर शाम जाट कालेज के पीछे अखाड़े में घुसकर हमला किया गया। घटना की जानकारी होते ही एसपी राहुल शर्मा, पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंच गए। हमलावरों की संख्या छह से 8 तक बताई जा रही है। घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर फरार हो गए। पुलिस अखाड़े के सभी एंट्री प्वाइंट के अलावा प्रमुख रास्तों के CCTV फुटेज भी खंगालने में जुटी है। घटना को अंजाम देने के पीछे के कारणों का पता लगाने के लिए पुलिस संबंधित परिवारों से संपर्क में जुटी हुई है।
मौके पहलवानों का जमावड़ा

READ MORE:   UNGA के मंच से आज गरजेगें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

घटना की जानकारी होते ही जाट कालेज में जिलेभर के पहलवान और कोच का जमावड़ा हो गया। इसके साथ ही खिलाड़ियों व शहर के प्रमुख लोग भी पहुंच गए। तत्काल ही घटना को अंजाम देने वाले हमलावरों को पकड़ने की मांग उठने लगी। वहीं, SP राहुल शर्मा ने बताया कि हमें घटना की सूचना मिली तो मौके पहुंचकर जांच शुरू कर दी। पूरे मामले में तथ्य जुटाने के लिए टीम गठित कर दी है।


उधर, गोहाना क्षेत्र के बरोदा थाने की पुलिस गांव बरोदा के सुखमेंद्र मोर द्वारा रोहतक में वारदात को अंजाम देने के बाद अलर्ट हो गई। पुलिस ने गांव बरोदा में पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया और सुखमेंद्र के बारे में जानकारी जुटाई। पुलिस के अनुसार गांव बरोदा में स्थिति सामान्य है। सुखमेंद्र रोहतक में जाट कालेज के पास के अखाड़े में कोच था। बरोदा थाना के प्रभारी बदन सिंह गांव में पहुंचे। थाना प्रभारी के अनुसार गांव में किसी तरह की घटना नहीं हुई। पुलिस ग्रामीणों ने सुखवेंद्र मोर के बारे में जानकारी जुटा रही है।

सुखमेंद्र द्वारा रोहतक में वारदात को अंजाम देने के बाद ग्रामीण हतप्रभ है। ग्रामीणों का कहना है कि सुखमेंद्र को बचपन से ही कुश्ती का शौक था। वह कई प्रतियोगिताओं में भाग ले चुका है। सुखमेंद्र ने करीब 2 साल पहले अखाड़े में हिस्सा किया था और वह अखाड़े का कोच था। सुखमेंद्र के पिता मेहर सिंह सेना से सेवानिवृत्त हैं और गांव में रहते हैं। सुखवेंद्र मोर भी अकसर गांव आता-जाता रहता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *