पटना मेयर सीता साहू की कुर्सी खतरे में, 75 में से 41 पार्षदों ने पेश किया अविश्वास प्रस्ताव

NEWS बिहार

पटना की मेयर सीता साहू की कुर्सी एक बार फिर खतरे में पड़ गई है। 41 निगम पार्षदों ने मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है। अविश्वास प्रस्ताव की अगुवाई पूर्व डिप्टी गठित मेयर विनय कुमार पप्पू कर रहे हैं। फिलहाल पटना नगर निगम में 75 पार्षद हैं। बिहार नगरपालिका अधिनियम की धारा 25(4) के साथ गठित बिहार न्यायपालिका प्रस्ताव प्रक्रिया नियमावली 210 के नियम-2 के तहत मेयर के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पर विचार करने के लिए पार्षदों की विशेष बैठक बुलाने की मांग की है।

पार्षदों ने अपने पत्र में लिखा है कि उन्होंने सीता साहू को महापौर के पद पर इस आशा और विश्वास के साथ बिठाया था कि उनके नेतृत्व में पटना नगर निगम का चौमुखी विकास होगा। पटना अपने पुराने गौरव को प्राप्त करेगा। राजधानी के लोगों को एक सुंदर और स्वच्छ शहर में रहने का सपना साकार होगा। लेकिन मेयर ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

पार्षदों ने आरोप लगाया कि मेयर ने अपने दायित्वों का ईमानदारी पूर्वक निर्वहन नहीं की, बल्कि भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी को पटना नगर निगम में जमकर बढ़ावा दिया। आउटसोर्सिंग के नाम पर निगम में जमकर लूट-खसोट की गई। मेयर चाहतीं तो हर महीने प्रत्येक वार्ड से 5 लाख रुपये बचा सकती थी, लेकिन इसके उलट जो काम एक रुपए में निगम कर सकता था उसे दो रुपये में कराया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *