Rajiv Gandhi assassination case

पूर्व पीएम Rajiv Gandhi की हत्या करने की दोषी नलिनी ने की सुसाइड की कोशिश

देश

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या की दोषी नलिनी श्रीहरन ने जेल में खुदकुशी की कोशिश की है। जानकारी के अनुसार बीती रात नलिनी का दूसरे कैदी के साथ विवाद हुआ था, जिसके बाद उसने खुदकुशी की कोशिश की। फिलहाल उसका जेल के अस्पताल में इलाज चल रहा है। नलिनी के वकील पुगलेंधी ने मीडिया को बताया कि वह पिछले 29 साल से जेल में बंद है। ऐसा पहली बार हुआ है जब नलिनी ने आत्महत्या की कोशिश की है।


वकील ने बताया कि जेल में नलिनी और एक कैदी के बीच कथित तौर पर झगड़ा हुआ था। नलिनी का जिससे झगड़ा हुआ था। वह भी उम्र कैद की सजा में बंद है। उस कैदी ने झगड़े की शिकायत जेलर से की। जिसके बाद नलिनी ने आत्महत्या करने की कोशिश की। पुगलेंधी ने कहा कि नलिनी एक फाइटर है और वह ऐसी हरकत कभी नहीं कर सकती। पुगलेंधी ने इस मामले में अब तक की जांच को अपर्याप्त बताया है। वकीन ने कहा कि उन्हें सुसाइड की कोशिश के बारे में जेल अफसरों की ओर से बताए जा रहे कारणों पर संदेह है। वकील पुगलेंधी ने कहा कि मुरुगन की इस मांग को कोर्ट में उठाया जाएगा।

राजीव गांधी की 21 मई, 1991 में तमिलनाडु में चुनाव प्रचार के दौरान बम विस्फोट करके हत्या कर दी गई थी। दोष सिद्ध होने के बाद कोर्ट ने नलिनी को उम्रकैद की सजा सुनाई। तब से नलिनी तमिलनाडु की वेल्लोर जेल में बंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *