Indian Economy

2047 तक 40 ट्रिलियन डॉलर की होगी भारत की अर्थव्यवस्था- मुकेश अंबानी

Mukesh Ambani News Update: रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के चेयरमैन मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani) ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था ( Indian Economy) 2047 तक 13 गुना बढ़कर 40,000 अरब डॉलर पर पहुंच सकती है। उन्होंने कहा कि आने वाले दशकों में क्लीन एनर्जी (Clean Energy), बायो एनर्जी (Bio Energy) और डिजिटल क्रांति ( Digital Revolution) जैसी तीन महत्वपूर्ण क्रांतियां भारत के आर्थिक विकास का नेतृत्व करेंगी।

मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani) ने पंडित दीनदयाल एनर्जी विश्वविद्यालय (Pandit Deendayal Energy University ) के 10वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि भारत तीन हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था से बढ़कर 2047 तक 40 हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने कहा कि अमृत काल के दौरान देश आर्थिक विकास और अवसरों में एक अभूतपूर्व बदलाव देखेगा। उन्होंने कहा कि स्वच्छ ऊर्जा और जैव-ऊर्जा क्रांति स्थायी रूप से ऊर्जा का उत्पादन करेगी जबकि डिजिटल क्रांति हमें कुशलता से ऊर्जा का उपभोग करने में सक्षम बनाएगी। और ये तीनों क्रांतियां मिलकर भारत और दुनिया को जलवायु संकट से बचाने में मदद करेंगी।

मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani) ने कहा कि भारत के बिजनेस आर्गनाइजेशन के एकजुट प्रयासों और उठाये गए कदमों के चलते रिन्यूअबल एनर्जी के क्षेत्र में भारत ग्लोबल लीडर बन सकता है। उन्होंने इस दौरान छात्रों को सफलता के लिए बड़ा सोचो, हरा सोचो और डिजिटल सोचो जैसे तीन मंत्र भी दिए। मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani) पंडित दीनदयाल विश्वविद्यालय के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के प्रेसीडेंट भी हैं।

भारत फिलहाल दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और वर्तमान में केवल अमेरिका, चीन, जापान और जर्मनी के पीछे है. मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani) का भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर यह अनुमान अडानी समूह के चेयरमैन गौतम अडाणी से भी बड़ा है, जिन्होंने बीते हफ्ते कहा था कि भारत 2050 तक 30 हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा।