Rafale Fighter

फ्रांस से भारत के लिए रवाना हुए पांच राफेल विमान

विदेश

भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने के लिए 5 Rafale फाइटर जेट ने फ्रांस से उड़ान भर दी है। इन पांचों फाइटर प्लेन को 7 भारतीय पायलट उड़ाकर अंबाला एयरबेस ला रहे हैं। बताया जा रहा है कि फ्रांस से भारत आते समय पांचों फाइटर प्लेन को 28 जुलाई को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अल डाफरा एयरबेस पर उतारा जाएगा।

अल डाफरा एयरबेस की जिम्मेदारी फ्रांस एयरफोर्स के पास है। यहां पर Rafale विमानों की चेकिंग और फ्यूल भरा जाएगा। इसके बाद पांचों राफेल विमान 29 जुलाई की सुबह भारत पहुंचेंगे। Rafale को अंबाला एयरबेस पर तैनात किया जाएगा। भारत ने फ्रांस से 36 Rafale विमान खरीदने की डील की है, जिसमें से पांच विमान की डिलीवरी दी जा रही है।

अंबाला एयरबेस पहुंचने के बाद ही Rafale विमानों को मिसाइल से लैस किया जाएगा। इसमें स्कैल्प, मेटेओर और हैमर मिसाइल शामिल है। Rafale पहला स्क्वाड्रन अंबाला में स्थित होगा, जबकि दूसरा पश्चिम बंगाल के हाशिमारा में होगा।


पांच Rafale विमानों को हरी झंडी दिखाते हुए फ्रांस स्थित भारतीय दूतावास ने कहा कि नए Rafale विमान भारतीय वायुसेना की युद्ध क्षमता में बढ़ोतरी करेंगे। इसका फायदा भारत को रणनीतिक तौर पर होगा। भारतीय बेड़े में शामिल होने के लिए आज फ्रांस से 5 Rafale विमान रवाना हो गए हैं।

Rafale आने से निश्चित ही भारतीय वायुसेना की ताकत में अभूतपूर्व इजाफा होने जा रहा है। राफेल से लंबी दूरी पर आसानी से मिसाइल लॉन्च किए जा सकते हैं। एयर स्ट्राइक में ये फाइटर जेट सबसे ज्यादा कारगार साबित होगा। भारतीय वायुसेना के पास कुल 36 राफेल आने हैं, जो अगले दो साल में मिलने की उम्मीद है।


Rafale से पहले भी भारतीय वायुसेना में ऐसे फाइटर जेट शामिल हैं, जो दुश्मन को परेशान करने के लिए काफी हैं। वायुसेना के पास फिलहाल सुखोई, मिराज, मिग-29, जगुआर, LCA और मिग-21 जैसे फाइटर जेट हैं। इनके अलावा ट्रांसपोर्ट, हेलिकॉप्टर, ट्रेनर और एरोबिक टीम के जेट व हेलिकॉप्टर्स हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *