Rajasthan CM Ashok Gehlot

राजस्थान के सीएम गहलोत बोले, RSS को राजनीतिक पार्टी बन जाना चाहिए

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (Rajasthan CM Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को उदयपुर में भाजपा (BJP)और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) पर जुबानी हमला बोला। उन्होंने कहा कि आरएसएस (RSS) के लोग पीछे रहकर भाजपा को जिताने का काम करते हैं, यह सबको पता है। इसकी बजाय आरएसएस (RSS) को चाहिए कि वह भाजपा को अपने में मर्ज कर खुद राजनीतिक पार्टी बन जाए। डूंगरपुर जाने से पहले उदयपुर के महाराणा प्रताप हवाई अड्डे पर गहलोत पत्रकारों से बात कर रहे थे। अशोक गहलोत ने कहा कि आरएसएस (RSS) कभी सद्भावना की बात नहीं करता। हमेशा पीछे रहकर केवल भाजपा को जिताने के लिए काम करता है। ऐसा है तो वह सीधे राजनीतिक पार्टी बन जाए और भाजपा को अपने में मर्ज कर लें। इसके बाद वह विचारधारा के साथ कांग्रेस से मुकाबला करे। गहलोत ने कहा कि भले ही केंद्र में कांग्रेस सत्ता में नहीं है लेकिन हमारी विचारधारा में दम है। जबकि आरएसएस पीछे रहकर राजनीति करती है और ध्रुवीकरण करके ही चुनाव जिताती आई है। ध्रुवीकरण के जरिए ही चुनाव जीतने लगा तो इससे देश मजबूत नहीं होगा। देश की मजबूती के लिए देशवासियों और खासकर युवाओं को सोचना होगा। इसके बाद मुख्यमंत्री गहलोत डूंगरपुर के लिए रवाना हो गए।
डूंगरपुर में गहलोत बोले, पीए मोदी हिंसा रोकने के नाम पर देश को संबोधित क्यों नहीं करते

डूंगरपुर जिले में गुजरात से लगी सीमा पर अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने जनसभा को संबोधित किया। जिसमें उन्होंने कहा कि देश में तनाव, अशांति और हिंसा का माहौल है। किन्तु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राष्ट्र के नाम संबोधन नहीं कर रहे। मोदी को चाहिए कि उन्हें राष्ट्र के नाम संबोधन करना चाहिए। जिसमें वह हिंसा करने वालों की निंदा करें और आह्वान करें कि हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। देश का प्रधानमंत्री जब देशवासियों के लिए कहेगा तो उसका असर भी लोगों पर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का कहना बेहद मायना रखता है। वे बोलेंगे तो हिंसा थमेगी, माहौल बदलेगा। एक बार बोलकर चुप्पी साध लेने से सब कुछ सही नहीं होने वाला।
सीएम गहलोत ने कहा, हिंदू भी संकट में

सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि आरएसएस (RSS) के लोग हिंदू की बात करते हैं, जबकि आज हिंदू भी संकट में हैं। आज भी छुआछूत सहित कई ऐसे मामले आते हैं, जो खतरनाक हैं। ऐसे में इनको घर-घर जाकर लोगों को प्रेम और भाईचारे का संदेश देना चाहिए। छुआछूत तथा ऊंच नीच के खिलाफ अभियान चलाना चाहिए। आरएसएस कार्यकर्ता क्यों ना घर जाकर प्रेम और भाईचारे की बात करते। सभा को पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन और पूर्व मंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी संबोधित किया।
अखंड भारत वाले बयान पर मोहन भागवत पर साधा निशाना

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ( RSS chief Mohan Bhagwat)के अखंड भारत वाले बयान पर राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कहा कि आरएसएस गांधी, पटेल और आंबेडकर का इस्तेमाल कर रहा है। न तो जनसंघ, न अब बीजेपी, और न ही आरएसएस (RSS) ने कभी उन पर विश्वास किया। वे केवल चुनाव जितने के लिए अपना नाम लेते हैं। वे ‘अखंड भारत’ की बात करते हैं लेकिन (सरदार) पटेल ने आरएसएस पर प्रतिबंध लगा दिया था। उन्होंने (आरएसएस) राजनीति में कभी भाग न लेने के लिए लिखित में दिया, और वे केवल सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शामिल होंगे।
करौली दंगे पर कही ये बात

अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि जैसे दंगा करौली में हुआ। वहां पकड़े गए निर्दोष भी हो सकते हैं। मप्र में भी दंगे के लिए पकड़े गए लोग निर्दोष हो सकते हैं। निर्दोष हो या दोषी। उन्होंने लोगों का घर उजाड़ने के लिए यह कदम उठाया है। क्या यह किसी का घर गिराने का साहसिक कदम है।

India beat new Zealand 3-0. भारत ने किया कीवियों का सूपड़ा साफ, बने नम्बर 1 Kisi Ka Bhai Kisi Ki Jaan | शाहरुख की पठान के साथ सलमान के टीजर की टक्कर, पोस्टर रिवील 200करोड़ की ठगी के आरोपी सुकेश ने जैकलीन के बाद नूरा फतेही को बताया गर्लफ्रैंड, दिए महँगे गिफ्ट #noorafatehi #jaqlein #sukesh क्या कीवी का होगा सूपड़ा साफ? Team India for third ODI against New Zealand #indiancricketteam KL Rahul Athiya Wedding: Alia, Neha, Vikrant के बाद राहुल अथिया ने की बिना तामझाम के शादी