TUKDE TUKDE GANG

देश में बीजेपी है असली टुकड़े-टुकड़े गैंग- सुखबीर सिंह बादल

देश पंजाब

शिरोमणि अकाली दल प्रमुख Sukhbir Singh Badal ने भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि BJP देश में असली टुकड़े-टुकड़े गैंग है। साथ ही बादल ने किसान आंदोलन के दौरान देश को तोड़ने का भी आरोप लगाया।

Sukhbir Singh Badal ने कहा कि BJP ने राष्ट्रीय एकता को टुकड़ों में तोड़ दिया है, बेशर्मी से मुसलमानों के खिलाफ हिंदुओं को उकसाया है और अब अपने सिख भाइयों के खिलाफ ऐसा कर रही है। BJP देशभक्ति वाले पंजाब को सांप्रदायिक आग में धकेल रही है।

किसानों को देशद्रोही कहने की हिम्मत कैसे हुई ?

बीते दिनों पहले Sukhbir Singh Badal ने आंदोलन में खालिस्तानियों की मौजूदगी की अफवाहों को लेकर आक्रामक रुख दिखाया था। उन्होंने कहा था कि इस आंदोलन में कई बूढ़ी महिलाएं भी शामिल हैं। क्या वो खालिस्तानी लगती हैं? यह देश के किसानों को संबोधित करने का कोई तरीका है? यह किसानों का अपमान है।

बादल ने कहा था कि उनकी हिम्मत कैसे हुई हमारे किसानों को देशद्रोही कहने की? BJP या किसी और को, किसानों को देशद्रोही कहने का हक किसने दिया? किसानों ने अपना पूरा जीवन देश के लिए समर्पित कर दिया और आप इन्हें देशद्रोही कह रहे हैं? जो इन्हें देशद्रोही कह रहे हैं, वो खुद देशद्रोही हैं।

हरसिमरत कौर ने दिया था इस्तीफा

बता दें कि बादल परिवार की ओर से कृषि कानूनों का विरोध किया जा रहा है। हरसिमरत कौर बादल ने केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था और केंद्र के नए कानूनों को किसानों के साथ बड़ा धोखा बताया था। सिर्फ इतना ही नहीं सुखबीर बादल ने अकाली दल के NDA से अलग होने का ऐलान करते हुए पंजाब के चुनावों में अकेला लड़ने की बात कही थी।

READ MORE:   Mask में नमी होने से फैल रहा Black फंगस

प्रकाश सिंह बादल ने अवॉर्ड लौटाया था

इसी महीने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और अकाली दल के वरिष्ठ नेता प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानूनों के विरोध में अपना पद्म विभूषण सम्मान वापस कर दिया है। उनके अलावा अकाली दल के नेता रहे सुखदेव सिंह ढींढसा अभी अपना पद्म भूषण सम्मान लौटाने की बात कही थी। बता दें कि प्रकाश सिंह बादल NDA के उन नेताओं में रहे हैं, जिनके सार्वजनिक मंचों पर चरण छूकर Narendra Modi आशीर्वाद लेते रहे हैं। हालांकि, अब कृषि कानूनों पर BJP और अकाली दल आमने-सामने आ गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *