बिहार में होगा BJP का CM? दिल्ली जाएंगे या RJD के साथ लौटेंगे नीतीश कुमार?

बिहार में आज कल राजनीतिक गलियारों में कयासों का बाजार गर्म है। तेजस्वी यादव के घर पर इफ्तार पार्टी में शामिल होने के बाद CM नीतीश कुमार को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। JDU का साथ छोड़ने के बाद पांच साल में पहली बार नीतीश कुमार 10 सर्कुलर रोड पहुंचे थे। चर्चा ऐसी भी है कि बिहार में सबसे ज्यादा सीटें जीतने वाली BJP अब अपना मुख्यमंत्री बनाना चाहती है।

लालू परिवार के साथ इफ्तार पार्टी में शामिल होने के बाद नीतीश कुमार ने कहा था कि राजनीति और इफ्तार को मिलाकर नहीं देखना चाहिए। इसके बाद वह गृह मंत्री अमित शाह को रिसीव करने पटना एयरपोर्ट चले गए। इसपर भी कुछ लोगों को ऐतराज हुआ। उनका कहना था कि प्रोटोकॉल के मुताबिक इसकी कोई जरूरत नहीं थी।

अगले चुनाव तक CM रहेंगे नीतीशः भाजपा
JDU प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि नीतीश कुमार कभी भी तेजस्वी के नेतृत्व में काम करना पसंद नहीं करेंगे। बिहार BJP चीफ संजय जैसवाल ने कहा कि 2025 में होने वाले अगले विधानसभा चुनाव तक नीतीश कुमार ही CM रहेंगे। नीतीश कुमार के दोस्त और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने भी यही कहा कि नीतीश के बारे में इस तरह की चर्चा केवल विपक्ष का प्रोपेगैंडा है।

6 दिन में दो बार तेजस्वी से मिले नीतीश
चर्चा तब और गरम हो गई जब 6 दिन के ही भीतर दो बार नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव की मुलाकात हुई। इस दिन उम्मीद थी कि लालू प्रसाद यादव जेल से बाहर आएंगे। हालांकि उन्हें जमानत नहीं मिल पाई। बता दें कि नीतीश कुमार नरेंद्र मोदी के पुराने आलोचक रहे हैं। बीता समय देखें तो नीतीश कुमार ने कई बाल सत्ता के लिए साथ बदले हैं।

कई बार पाला बदल चुके हैं नीतीश
बिहार में भाजपा के साथ सरकार बनाने के बाद नीतीश कुमार ने एडीए छोड़कर आरजेडी का साथ पकड़ लिया था। वहीं आरजेडी के साथ भी सरकार बनाने के बाद वह भाजपा की ओर चले गए और एनडीए में वापस चले गए।

दिल्ली की ओर देख रहे नीतीश?
सवाल ये भी हैं कि क्या नीतीश कुमार अब दिल्ली की ओर देख रहे हैं। चर्चा है कि 15 साल तक बिहार के मुख्यमंत्री रहने के बाद अब वह उपराष्ट्रपति या राष्ट्रपति का पद चाहते हैं। कुछ ही महीने में चुनाव भी होने वाले हैं। जैसा कि बिहार में भाजपा चीफ ने कहा कि 2025 तक नीतीश ही मुख्यमंत्री रहेंगे. इससे एक बात और स्पष्ट है कि अगली बार अगर NDA की जीत भी हुई तो भी नीतीश मुख्यमंत्री नहीं होंगे।

भाजपा को यह भी अंदाजा है कि बिना नीतीश के चेहरे के चुनाव लड़ने से नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। कयास लगाए जा रहे हैं कि नीतीश कुमार को दिल्ली में बड़ा पद दिया जा रहा है और इफ्तार पार्टी में शामिल होना इसी योजना का हिस्सा है।

India beat new Zealand 3-0. भारत ने किया कीवियों का सूपड़ा साफ, बने नम्बर 1 Kisi Ka Bhai Kisi Ki Jaan | शाहरुख की पठान के साथ सलमान के टीजर की टक्कर, पोस्टर रिवील 200करोड़ की ठगी के आरोपी सुकेश ने जैकलीन के बाद नूरा फतेही को बताया गर्लफ्रैंड, दिए महँगे गिफ्ट #noorafatehi #jaqlein #sukesh क्या कीवी का होगा सूपड़ा साफ? Team India for third ODI against New Zealand #indiancricketteam KL Rahul Athiya Wedding: Alia, Neha, Vikrant के बाद राहुल अथिया ने की बिना तामझाम के शादी