delhi aap mla protest

आप के कई नेता और कार्यकर्ता हिरासत में, LG के आवास पर बड़ी संख्या में पुलिस तैनात

NEWS Top News

उप राज्यपाल अनिल बैजल के आवास पर जा रहे आप कार्यकर्ताओं और नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इनमें विधायक आतिशी भी शामिल हैं। इस मौके पर Aitishi ने कहा कि हमने पांच लोगों के साथ मिलने की अनुमति उपराज्यपाल से मांगी थी। मगर यहां 500 पुलिस कर्मियों को तैनात कर दिया गया है। इससे साफ है कि उपराज्यपाल मिलना नही चाहते हैं। उपराज्यपाल किसे बचा रहे हैं। हम 2400 करोड़ रुपये के घोटाले की जांच की मांग कर रहे हैं। जो उत्तरी नगर निगम में किया गया है। वहीं दिल्ली पुलिस ने चेतावनी दी है कि आतिशी और उनके साथ आए नेताओं पर मुकदमा दर्ज किया जा सकता है। फिलहाल LG के आवास पर आप नेताओं को जाने से रोक दिया गया है।

उधर, LG Anil Baijal और केंद्रीय गृह मंत्री Amit Shah के घर धरने से पहले AAP पार्टी के विधायक राघव चड्ढा, संजीव झा, कुलदीप कुमार और ऋतु राज को पुलिस ने उनके घर से हिरासत में लिया है। इन सभी थाने ले जाया गया है वहीं, आप के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने ट्वीट कर आरोप लगाया है कि विधायक ऋतु राज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। केंद्रीय गृह मंत्री Amit Shah के घर के बाहर पुलिस तैनात की गई है। इस वजह से कोई भी आप कार्यकर्ता अभी तक नहीं Amit Shah के घर नहीं पहुंच पाए हैं।

उधर, दिल्ली पुलिस ने AAP पार्टी के उस प्रार्थना पत्र से अस्वीकार कर दिया है जिसमें LG और गृह मंत्री के घर के बाहर शांतिपूर्वक धरने देने की इजाजत मांगी थी।

READ MORE:   कार्यस्थलों और घरों तक पहुंचने की प्रक्रिया आसान बनाये सरकार: आनंद माधब


दरअसल, मुख्यमंत्री आवास पर गत 7 नवंबर से धरना दे रहे भाजपा शासित तीनों नगर निगमों के महापौरों के जवाब में AAP पार्टी (आप) भी रविवार से धरना शुरू करने जा रही है। पार्टी ने जो योजना बनाई है उसके तहत आप का BJP पर हमला 2 जगह धरना देकर होगा। एक तरफ उपराज्यपाल निवास पर धरना होगा तो दूसरी ओर केंद्रीय गृह मंत्री के आवास के बाहर धरना दिया जाएगा। ये धरना उत्तरी नगर निगम द्वारा दक्षिणी नगर निगम के 2400 करोड़ रुपये माफ कर दिए जाने के मामले में CBI मांग को लेकर होगा।


आप ने घोषणा की है कि धरना तब तक चलेगा जब तक केंद्र सरकार CBI जांच की मांग स्वीकार नहीं कर लेता है। इस बारे में आप की वरिष्ठ नेता और विधायक Aitishi ने शनिवार को प्रेसवाता कर बताया कि उत्तरी नगर निगम के खिलाफ CBI जांच की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के विधायक व पार्षद रविवार सुबह 11 बजे दिल्ली के उपराज्यपाल और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मिलेंगे। इसके बाद धरने पर बैठेंगे।
आप ने लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

आतिशी ने कहा कि उत्तरी नगर निगम ने हेरफेर कर दक्षिणी नगर निगम पर बकाया जिस 2400 करोड़ की राशि को माफ कर दिया है। इतनी राशि इस नगर निगम को मिल जाती तो इस नगर निगम के सभी कर्मचारियों का बकाया वेतन दिया जा सकता था। Aitishi ने इसे भ्रष्टाचार बताया है। उन्होंने कहा कि इस भ्रष्टाचार के लिए कौन जिम्मेदार है? दिल्ली के शहरी विकास मंत्री ने भी इस मामले की जांच करने का आदेश दिया है। बता दें कि मुख्यमंत्री आवास पर धरना दे रहे तीनों महापौर की 13000 करोड़ की मांग को आम आदमी पार्टी जायज नहीं मानती है। पार्टी कई बार यह बात साफ कर चुकी है कि निगमों का दिल्ली सरकार पर एक भी पैसा बकााया नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *