India becomes Temporary member for two years

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कल लहराएगा तिरंगा, जानें खास वजह…

विदेश

भारत के सशक्त संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में 2 साल के लिए अस्थायी सदस्य बनते ही सोमवार से यहां तिरंगा झंडा लगाया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि 5 नए अस्थायी सदस्य देशों के झंडे को सोमवार को एक विशेष समारोह में स्थापित किया जाएगा।


यूएन में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत तिरुमूर्ति फहराएंगे तिरंगा

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत टीएस तिरुमूर्ति तिरंगा फहराएंगे और इस अवसर पर समारोह में संक्षिप्त संबोधन भी देंगे। भारत के अलावा इस समारोह में सुरक्षा परिषद में शामिल होने वाले नार्वे, केन्या, आयरलैंड और मैक्सिको भी नए अस्थायी सदस्य हैं।

2 साल के लिए अस्थायी सदस्य

यह सभी 2 साल के लिए अस्थायी सदस्यों एस्टोनिया, नाइजर, सेंट विंसेंट, ग्रेनेडाइंस, टुनीशिया और वियतनाम के साथ ही पांच स्थायी सदस्यों चीन, फ्रांस, रूस, ब्रिटेन और अमेरिका के सहयोगी बनेंगे।

भारत को अगस्त में एक महीने के लिए सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता मिलेगी

भारत इसी साल अगस्त में एक महीने के लिए सुरक्षा परिषद का अध्यक्ष रहेगा। इसके बाद वर्ष 2022 में भी एक महीने के लिए अध्यक्षता मिलेगी। सुरक्षा परिषद में ध्वजारोहण की परंपरा को वर्ष 2018 में कजाखस्तान ने शुरू किया था।

8वीं बार यूएनएससी का अस्थाई सदस्य
भारत 8वीं बार यूएनएससी का अस्थाई सदस्य बनेगा और यूएन की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक अगस्त, 2021 में एक महीने के लिए परिषद का अध्यक्ष भी होगा। भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि भारत इस कार्यकाल का उपयोग संयुक्त राष्ट्र में सुधार के अधूरे एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए करेगा।

आतंकवाद के खिलाफ यूएनएससी को और मजबूत बनाना भारत की प्राथमिकता

सूत्रों का कहना है कि आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक गठबंधन को और मजबूत बनाना भारत की प्राथमिकता रहेगी, लेकिन मौजूदा परिवेश को देखते हुए भारत Corona के खिलाफ वैश्विक सहयोग में और सकारात्मक भूमिका निभाएगा। अब जबकि भारत को Corona Vaccine के मैन्यूफैक्चरर्स के तौर पर पूरी दुनिया देख रही है तब भारत की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *