Kisan Andolan Update

Farmers Protest: आज दिल्ली-जयपुर और आगरा हाईवे जाम करेंगे किसान,पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

NEWS Top News

सरकार और किसानों के बीच अब तक 5 दौर की वार्ता हो चुकी है। सभी बातचीत बेनतीजा रही है। ऐसे में Farmers ने आंदोलन और तेज करने की धमकी दी है। इससे लोगों की दिक्कत और बढ़ सकती है। वार्ता के लिए फिलहाल कोई अगली तारीख तय नहीं की गई है। सरकार को अपने प्रस्तावों पर Farmers संगठनों के जवाब का इंतजार है। सरकार जहां कृषि कानूनों को वापस नहीं लेने की बात कही है, वहीं किसान कृषि कानून को रद्द किए जाने की मांग पर अडिग हैं। ऐसे में Farmers ने आंदोलन को और तेज करने की रूपरेखा भी तय कर ली है। इसके तहत किसानों ने कल से हाईवे बंद करने की घोषणा की है। साथ ही रेलवे ट्रैक बाधित करने की भी घोषणा की गई है, कुछ कंपनियों की फैक्ट्री बाधित करने की भी बात कही गई है। Farmers संगठनों और संस्थाओं ने दिल्ली से सटे तमाम बॉर्डर को सील करने की चेतावनी जारी की है।


सरकार पर और दबाव बनाने के लिए किसान अब दिल्ली-जयपुर Highways और दिल्ली-आगरा बॉर्डर को रोकने की कोशिश करेंगे। किसानों ने घोषणा की है कि 12 दिसंबर से दिल्ली जयपुर हाईवे और दिल्ली आगरा हाईवे को भी जाम किया जाएगा। किसानों ने 12 दिसंबर को देशभर के सभी टोल नाकों को भी टोल फ्री करने का एलान किया है। Farmers संगठन Highways Jam कर सरकार पर दबाव बनाना चाहते हैं। यदि देशभर के सभी टोल प्लाजा एक दिन के लिए भी मुक्‍त रहता है या उन पर आवाजाही बंद रहती है तो इससे सरकार को करोड़ों रुपए का नुकसान हो सकता है।

READ MORE:   कोविड के खिलाफ जंग में इंडिया की रिसर्च-मैन्यूफैक्चरिंग की अहम भूमिका-बिल गेट्स


आगे की रणनीति के तहत किसानों ने 14 दिसंबर से जिला मुख्यालय पर जिलाधिकारी और सरकारी कार्यालयों को घेरने का भी प्लान बनाया है। Farmers की रणनीति का मकसद है कि केंद्र Farmers की तीनों कृषि कानून रद्द करने की मांगों को जल्द मानें।

किसानों की रणनीति

  • 12 दिसंबर को दिल्ली-जयपुर और दिल्ली-आगरा हाईवे को रोका जाएगा
  • 12 दिसंबर को देश भर के सभी टोल प्लाजा फ्री होंगे
    देशभर के रेलवे ट्रैक बाधित करने की चेतावनी
  • 14 दिसंबर को देशभर में धरना-प्रदर्शन होगा
  • 14 दिसंबर को हर जिले के मुख्यालय का घेराव होगा
  • 14 दिसंबर को भाजपा ऑफिस का घेराव होगा
  • दिल्ली की सड़कों को करेंगे जाम
  • निजी कंपनियों के उत्पादों का बहिष्कार करने की घोषणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *