Narender Modi Visit Gujarat

गुजरात को PM मोदी की सौगात-आरोग्य वन चिल्ड्रेन न्यूट्रिशन पार्क का किया उद्घाटन

NEWS Top News

प्रधानमंत्री Narender Modi नर्मदा जिले के केवडिया पहुंचकर आरोग्‍य वन के बाद एकता मॉल और चिल्‍ड्रन न्‍यूट्रीशन पार्क का उद्घाटन किया और ‘न्यूट्री ट्रेन’ की सवारी भी की। आरोग्‍य वन में 380 प्रजाति के पेड़ हैं। PM मोदी ने केवडिया में ‘आरोग्य वन’ में स्थित ‘आरोग्य कुटीर’ का भी भ्रमण किया। इसमें सैकड़ों औषधीय पौधे और जड़ी-बूटियां हैं। यहां उनके उपयोग और महत्व के बारे में भी जानकारी उपलब्‍ध है। आरोग्य वन 17 हेक्टेयर में फैला हुआ है। योग व आयुर्वेद को ध्यान में रखते हुए इसका विकास किया गया इसमें कमल तालाब, ल्युटिया गार्डन, अरोमा गार्डन, मोदी शाम को कैरेक्टर गार्डन जाएंगे तथा रात को डायनेमिक डेम लाइट का अवलोकन करेंगे। दोपहर 4:00 बजे प्रधानमंत्री मोदी जंगल सफारी का उद्घाटन करेंगे।


विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा केवड़िया

नर्मदा जिले की केवड़िया कॉलोनी को एक विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जा रहा है। दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैचू ऑफ यूनिटी के एक 100 किलो मीटर के रेडियस में राज्य सरकार 1000 करोड़ रुपए खर्च कर करीब 2 दर्जन से अधिक प्रोजेक्ट को पूरा करेगी जिसमें 400 मकानों का एक आदर्श गांव भी शामिल है। शाम को प्रधानमंत्री Narender Modi जंगल सफारी का उद्घाटन करेंगे। यह जंगल सफारी 375 एकड़ में फैला होगा जिसमें 1100 प्रजाति के पक्षी तथा 100 से अधिक प्रजाति के जंगली पशु रखे जाएंगे।


गौरतलब है कि गुजरात पहुंचते ही सबसे पहले वह पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के गांधीनगर स्थित आवास पर गए थे और उन्‍हें अंतिम श्रद्धांजलि अर्पित की थी। PM Narender Modi ने महेश और नरेश कनोडिया के परिवार के सदस्यों से भी मुलाकात की थी जिनका हाल ही में निधन हुआ है। महेश कनोडिया गुजरात के एक संगीतकार और BJP के पूर्व सांसद थे, जबकि नरेश कनोडिया एक अभिनेता थे।


मोदी बोले, अमर हो गई महेश नरेश की जोड़ी

गुजराती सिनेमा लोक कला जगत के दिग्गज महेश नरेश कनोडिया को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि 2 भाइयों की ये जोड़ी अमर हो गई है। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल को श्रद्धांजलि देने के बाद प्रधानमंत्री मोदी सीधे महेश नरेश कनोडिया के घर पहुंचे। मोदी ने कहा कि महेश्वर नरेश की जोड़ी अमर हो गई है, 2 भाइयों के बीच अटूट प्रेम आज के समाज को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा गुजरात में लोग उनका नाम गर्व से लिया करेंगे। बीते दिनों ही इन दोनों कलाकारों का निधन हुआ था।


महेश कनोडिया गुजराती लोक संगीत के महान कलाकार थे वही नरेश कनोडिया गुजराती सिनेमा के महानायक बन गए थे। गुजरात के लोक संगीत व सिनेमा जगत में यह जोड़ी सुपरहिट थी तथा किसी भी फिल्म की सफलता की गारंटी होते थे। महेश कनोडिया राज्यसभा के सदस्य भी रहे जबकि नरेश कनोडिया गुजरात विधानसभा के सदस्य रहे। दोनों ही कलाकारों का भारतीय जनता पार्टी से करीबी नाता रहा। गत 25 अक्टूबर को महेश कनोडिया का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था तथा 27 अक्टूबर को ही नरेश कनोडिया जो उनके छोटे भाई थे, का भी निधन हो गया। नरेश के पुत्र हितु कनोडिया हाल भाजपा के विधायक हैं।


बता दें कि प्रधानमंत्री Narender Modi आज से गुजरात की दो दिन की यात्रा पर रहेंगे। सरदार पटेल की 145वीं जयंती पर मोदी राष्‍ट्रीय एकता परेड की सलामी लेंगे तथा स्‍टेचू ऑफ यूनिटी पर उन्‍हें श्रद्धांजलि देंगे। मोदी केवडिया से रिवरफ्रंट अहमदाबाद के बीच सी प्‍लेन का उद्घाटन करेंगे! के‍वडिया में 17 प्रोजेक्‍ट का लोकार्पण व 400 घरों के आदर्श गांव का शिलान्‍यास करेंगे।

400 घरों के आदर्श गांव सहित 4 नये प्रोजेक्‍ट का शिलान्‍यास

केवडिया स्थित सरदार सरोवर बांध, दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा स्‍टेचू ऑफ यूनिटी के आसपास के 25 किमी क्षेत्र में डेकोरेटिव लाइटिंग का भी मोदी उद्घाटन करेंगे। इस क्षेत्र को होलिस्टिक टूरिज्‍म स्‍थल के रूप में विकसित करने के लिए 1 अरब लाइट की सजावट के साथ जंगल सफारी, एकता मॉल्‍, चिल्ड्रन न्यूट्रिशन पार्क, यूनिटी ग्‍लो गार्डन, केक्‍टस गार्डन, एकता नर्सरी, बटर फ्लाई पार्क, ईको टूरिज्‍म, क्रूज, रिवर राफ्टिंग आदि विकसित किये गये हैं। Narender Modi 31 अक्‍टूबर को राष्‍ट्रीय एकता परेड की सलामी लेंगे, राज्‍यपाल आचार्य देवव्रत व मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी भी उनके साथ होंगे। मोदी यहां 400 घरों के आदर्श गांव सहित 4 नये प्रोजेक्‍ट का शिलान्‍यास करेंगे। केवडिया में तालाब नंबर 3 पर बने वाटर एयरोड्रम का उद्घाटन करेंगे, मोदी गुजरात में पहली बार शुरु हो रहे सी प्‍लेन का भी उद्घाटन करेंगे।

आदिवासी बहुल विस्‍तार में 9000 करोड़ रुपये खर्च

गुजरात सरकार 2020 से 2022 तक स्‍टेचू ऑफ यूनिटी की 100 किमी की रेडियस वाले आदिवासी बहुल विस्‍तार में 9000 करोड़ रुपये खर्च करेगी। यहां 375 एकड़ में जंगल सफारी विकसित किया जा रहा है जिसमें देश विदेश के 1100 प्रजाति के पक्षी व 100 प्रजाति के जंगली प्राणी को रखा जाएगा। 35000 वर्ग फुट के दो मंजिला एकता माल का भी निर्माण किया जाएगा जिसमें देश के विविध राज्‍यों के हसतकला व कारीगरी से निर्मित वस्‍तुएं खरीदी जा सकेगी। बच्‍चों को पोषण संबंधी जानकारी खेल व खिलौनों के जरिए देने के लिए 35000 वर्ग मीटर में चिल्‍ड्रन न्‍यूट्रीशन पार्क तथा मिनी ट्रेन होगी। पर्यटकों को प्रक्रति का सानिध्‍य उपलब्‍ध कराने के लिए सौ एकड़ में फैले सवा लाख से अधिक पेड़ों से आच्‍छादित ईको टूरिज्‍म पार्क विकसित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *