Navratri Puja

Shardiya Navratri 2022: जानिए इस बार 9 या 10 दिनों की है शारदीय नवरात्रि,कब है महाष्टमी और नवमी तिथि ?

Shardiya Navratri 2022 Mahashtami and Navami Date: जनमानस की भागीदारी के हिसाब से सभी नवरात्रियों में शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) सबसे प्रमुख मानी जाती है। पंचांग के अनुसार शारदीय नवरात्रि अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरु होती है और दशमी को समाप्त होती है। इस बार यह नवरात्रि (Navratri) 26 सितंबर को शुरू होगी और 5 अक्टूबर को समाप्त होगी। नवरात्रि की दशमी तिथि यानी 5 अक्टूबर को दुर्गा विसर्जन किया जाएगा।

नवरात्रि में मां दुर्गा आती हैं पृथ्वी पर

हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार, नवरात्रि (Navratri) में मां दुर्गा भक्तों के बीच धरती पर आती हैं और वे अपने भक्तों को उनकी हर मनोकामना पूरा होने का आशीर्वाद प्रदान करती है। नवरात्रि (Navratri) के 9 दिनों में भक्त मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की विधि –विधान से पूजा अर्चना करते हैं। नवरात्रि के 9 दिन अलग-अलग देवी की पूजा होती है। इसके बाद अष्टमी तिथि और नवमी तिथि पर पूजा के बाद कंजक करके व्रत का पारण किया जाता है। आइये जानें शारदीय नवरात्रि (Shardiya Navratri) की महाष्टमी और नवमी तिथि कब है?

शारदीय नवरात्रि महाष्टमी तिथि 2022

नवरात्रि (Navratri) के 9 दिनों में अलग देवियों की पूजा की जाती है। तिथियों के घटने-बढ़ने की वजह से अष्टमी और नवमी तिथि आगे-पीछे हो जाती हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नवरात्रि (Navratri) के तिथियों का क्षय अशुभ माना जाता है.

पंचांग के मुताबिक, इस बार महाष्टमी व्रत 3 अक्टूबर को रखा जाएगा। नवरात्रि (Navratri) के 8वें दिन मां दुर्गा के मां महागौरी स्वरूप की पूजा की जाती है। वहीं, नवमी के दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा का विधान है। वहीँ महा नवमी का व्रत 4 अक्टूबर को रखा जाएगा।10वें दिन मां दुर्गा जी का विसर्जन किया जाता है।

महानवमी का महत्व

धार्मिक कथाओं के अनुसार राक्षसों के राजा महिषासुर के साथ मां दुर्गा ने अलग स्वरूपों के साथ 9 दिनों तक युद्ध किया था। इसी लिए नवरात्रि का पर्व 9 दिनों तक मनाया जाता है। नवरात्रि (Navratri) के अंतिम अर्थात 10वें दिन महा नवमी तिथि को मां दुर्गा की बुराई पर जीत हासिल की थी। इसलिए इसे महानवमी के नाम से भी जाना जाता है।