बिहार में अब जिन्ना पर छिड़ी बहस, JDU ने बताया देशभक्त तो BJP ने कहा-पाकिस्तान चले जाएं

NEWS देश बिहार राजनीति

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व केंद्रीय कानून मंत्री सलमान खुर्शीद की किताब (Salman Khurshid Book Controversy) में हिंदुओं की तुलना इस्‍लामिक स्‍टेट (ISIS) और बोको हराम जैसे आतंकी संगठनों से करने को लेकर देश भर में सियासत तेज हो गई है. बीजेपी की ओर से खुलकर खुर्शीद का विरोध किया जा रहा है, वहीं बिहार कांग्रेस के नेता भी इस बात पर आपत्ति जता रहे हैं. लेकिन, अभी यह विवाद खत्म भी नहीं हुआ था कि अब बिहार में मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर बहस तेज हो गयी है. दरअसल बिहार में नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने सलमान खुर्शीद के बहाने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए बड़ी बात कह दी है .जदयू एमएलसी खालिद अनवर (Khalid Anwar) ने विवादास्पद बयान देते हुए कहा है कि कांग्रेस के कारण देश का बंटवारा हुआ और आजादी की लड़ाई में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले मोहम्मद अली जिन्ना पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने.

कांग्रेस पर हमला करते हुए खालिद अनवर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का शुरू से समाज में बंटवारा कर सत्ता में बने रहना का चरित्र रहा है. मोहम्मद अली जिन्ना आजादी की लड़ाई के सबसे बड़े नेता थे, लेकिन पंडित जवाहरलाल नेहरू ने खुद प्रधानमंत्री बनने के लिए देश का बंटवारा करवाया. उस वक्त जिन्ना सबसे अव्वल व्यक्ति थे, लेकिन बंटवारा होने के बाद वे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने. आजादी की लड़ाई में जीना की बड़ी भूमिका थी इसलिए उन्हें कायदे आजम मोहम्मद अली जिन्ना कहा जाता था, जो जिन्ना की बुराई करते हैं मैं उनके बारे में नहीं जानता हूं .

इधर सलमान खुर्शीद के बहाने जिन्ना को देशभक्त बताने वाले जदयू नेता खालिद अनवर के बयान पर बीजेपी ने भी आपत्ति जताई है. बीजेपी नेता और बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि भारत गांधी को मानने वाला देश है जो हिंदुस्तान में रहने वाले लोग हैं वह गांधी और भारत माता की पूजा करते हैं. जिनकी मानसिकता पाकिस्तान की थी वह जिन्ना की पूजा करने पाकिस्तान चले गए थे. आज भी जो लोग भारत में रह गए और यहां जिन्ना की पूजा कर रहे हैं उन्हें पाकिस्तान में रहना चाहिए, हिंदुस्तान में उनके लिए कोई जगह नहीं है.

सलमान खुर्शीद की नई किताब सामने आने के बाद से ही सियासत गरमाई हुई है. बिहार कांग्रेस के नेता ऋषि मिश्रा ने सख्‍त बयान दिया है. उन्‍होंने सलमान खुर्शीद की किताब में लिखी बातों को पूरी तरह से गलत करार दिया है. उन्‍होंने कहा कि कोई भी धर्म हिंसा करना नहीं सिखाता है. ऋषि मिश्रा ने सलमान खुर्शीद से माफी मांगने की बात की है. दरअसल, सलमान खुर्शीद ने अपनी किताब ‘सनराइज ओवर अयोध्‍या’ में हिुदुत्‍व की तुलना इस्‍लामिक कट्टरपंथी संगठनों से कर डाली है. उन पर हिंदुत्‍व को बदनाम करने का आरोप लग रहा है. मनमोहन कैबिनेट में उनके सहयोगी रहे कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने भी सलमान खुर्शीद के दावों से असहमति जताई है. गुलाम नबी ने किताब के हिस्‍से में लिखी बातों को तथ्‍यात्‍मक तौर पर गलत करार दिया है.

1 thought on “बिहार में अब जिन्ना पर छिड़ी बहस, JDU ने बताया देशभक्त तो BJP ने कहा-पाकिस्तान चले जाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *