UP police

बड़ा खुलासाः 15 अगस्त से पहले लखनऊ समेत कई शहरों को दहलाने की साजिश

NEWS Top News

राजधानी Lucknow के Kakori इलाके में रविवार को ATS ने घेराबंदी करके अलकायदा के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है। यूपी के ADG प्रशांत कुमार ने बताया कि लखनऊ से गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकवादी अलकायदा समर्थित अंसार गजवातुल हिंद संगठन से जुड़े हुए थे। ये लोग मानव बम बनकर 15 अगस्त से पहले लखनऊ समेत कई शहरों को दहलाने की योजना बना रहे थे। ATS को इनके पास से विस्फोटक बरामद हुआ है। उन्होंने बताया कि यह संगठन उमर नामक एक व्यक्ति द्वारा संचालित किया जा रहा था।

यूपी के ADG प्रशांत कुमार के अनुसार, अलकायदा समर्थित आतंकी संगठन पेशावर व क्वेटा से संचालित किया जा रहा था। उन्होंने कहा कि उमर लखनऊ में जेहादी प्रवृत्ति के लोगों को तैयार कर रहा था। मिनहाज अहमद और मशीरुद्दीन उर्फ मुशीर इस संगठन के सदस्य हैं। ये लोग 15 अगस्त से पहले शहरों में अलग-अलग जगह धमाके की योजना बना रहे थे। ADG के मुताबिक इनपुट के आधार पर मिनहाज के घर से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया गया है।

प्रशांत कुमार ने कहा कि सूचना मिलने पर एक टीम द्वारा मिनहाज अहमद के लखनऊ स्थित घर पर दबिश दी गई तो वह घर पर मिला। उसके घर से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद हुआ। ATS को उसके घर से एक पिस्टल व आईईडी बरामद हुई। वहीं, प्राप्त हुए आईईडी को बीडीडीएस की मदद से निष्क्रिय कराया जा रहा है। दूसरी टीम के द्वारा अभियुक्त मशीरुद्दीन के लखनऊ स्थित घर पर दबिश दी गई. उसके घर से भी भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद हुआ.। एडीजी के अनुसार दोनों अभियुक्तों से ATS पूछताछ कर रही है.।

READ MORE:   बिहार में फिर बरपा आसमान से कहर, आकाशीय बिजली से 15 लोगों की मौत

एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि अन्य टीमों द्वारा इन आतंकवादियों के सहयोगियों की तलाश हेतु अलग-अलग स्थानों पर दबिश दी जा रही है। पूछताछ के दौरान हिरासत में हिए गए अभियुक्तों द्वारा अपने सहयोगियों के घर से भाग जाने की बात कही गई है. जिसके आधार पर ATS की टीम इन इलाकों में सघन चेकिंग अभियान चला रही है।

आईजी एटीएस डॉ. जीएस गोस्वामी ने बताया कि आतंकी मिनहाज और मसरुद्दीन ने लखनऊ में ही प्रेशर कुकर बम की खेप तैयार करने के साथ ही 15 अगस्त से पहले लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, आगरा, मेरठ, बरेली व अयोध्या को दहलाने की योजना बना ली थी। इन दोनों आतंकवादियों का कानपुर कनेक्शन सामने आया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में लखनऊ के साथ कानपुर से इन आतंकवादियों को मदद दी जा रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *