विकास की रफ्तार हुई धीमी, GDP में आई गिरावट पर ओवैसी ने पीएम को घेरा

लगातार गिरती देश की जीडीपी का स्तर अब चिंता का विषय बन गई है। भारत की जीडीपी ग्रोथ के ताजा आंकड़े बताते हैं कि देश की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। जीडीपी के आंकड़ों के मुताबिक देश की आर्थिक स्थिति लुढ़क कर काफी नीचे आ गई है। दरअसल, चालू वित्त वर्ष यानी साल 2019-20 की दूसरी तिमाही में जीडीपी का आंकड़ा 4.5 फीसदी पहुंच गया है। जो चिंता का विषय है। अर्थशास्त्रियों की माने तो ये आंकड़ा करीब 6 साल में किसी एक तिमाही की सबसे बड़ी गिरावट है। आपको बता दें इससे पहले मार्च 2013 तिमाही में देश की जीडीपी दर इस स्‍तर पर पहुंच गई थी।  

जहां एक तरफ लगातार लुढ़कती जीडीपी केंद्र की मोदी सरकार के लिए चिंता का विषय बन गई है। तो वहीं अब देश की लचर होती अर्थ व्यवस्था पर  विपक्ष ने मोदी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है।  आपको बता देंएआईएमआईएम के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने देश की गिरती अर्थव्यवस्था पर पीएम मोदी पर सवाल खड़े किए और कहा कि देश की हालत खराब है जीडीपी ग्रोथ लगातार गिर रहा है और पीएम अर्थव्यवस्था संकट मानने को तैयार नहीं हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.