SINGHU BORDER

धरने पर बैठे किसान की मौत, परिजन बोले- ठंड के कारण हुई मौत

दिल्ली देश पंजाब

कृषि कानूनों के खिलाफ Farmers Protest जारी है। सर्द मौसम में भी आंदोलनकारी किसान दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं। सोनीपत के सिंधु बॉर्डर पर चल रहे Farmers आंदोलन में एक किसान की मौत हो गई है। किसान आंदोलन में टीडीआई सिटी के सामने किसान की मौत हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसान के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

बताया जा रहा है कि मृतक Farmers का नाम अजय है और उसकी उम्र 32 साल है। वह सोनीपत के बरोदा का रहने वाला है। अजय एक एकड़ जमीन का Farmers था और जमीन ठेके पर लेकर खेती का काम करता था। किसान आंदोलन में वह भी हिस्सा ले रहा था। रात को खाना खाकर सोया था और सुबह नहीं उठा। परिजनों ने कहा कि उसकी ठंड के कारण मौत हुई है।

आपको बता दें कि तीन कृषि कानूनों समेत कई मांगों को लेकर दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर किसान पिछले 12 दिन से डटे हुए हैं। हजारों की संख्या में Farmers अपने ट्रैक्टर में ही रात काट रहे हैं। सर्द मौसम में किसानों का हौसला बुलंद है। सिंधु, टिकरी, गाजीपुर और चिल्ला बॉर्डर पर किसानों का हुजूम इकट्ठा है, जिन्हें विपक्ष का भी समर्थन मिल रहा है।

कृषि कानून पर गतिरोध कम करने के लिए सरकार और किसानों के बीच 5 राउंड की वार्ता हो चुकी है, लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकला है। इस बीच किसानों ने आज Bharat Bandh बुलाया है। किसानों के Bharat Bandh का मिलाजुला असर देखने को मिल रहा है। कई जगहों पर विपक्ष जबरदस्त Protest कर रहा है तो कई जगहों पर दुकानें खुली हैं।

READ MORE:   कैसी होगी देश की नई संसद भवन की इमारत,जानिए कब है शिलान्यास

किसानों और सरकार के बीच कल फिर से बातचीत होगी। इससे पहले किसान Farmers नेता अपनी अगली रणनीति बना रहे हैं। किसानों का कहना है कि हम कृषि कानून को वापस लेने तक घर नहीं जाएंगे। हमने 6 महीने तक धरना देने की तैयारी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *