अवैध धर्म परिवर्तन और लव जिहाद पर होगी कार्यवाही

VIEWS उत्तर प्रदेश

लखनऊ के अधीश सभागार, विश्व संवाद केंद्र, लखनऊ में दुलारी देवी फाउंडेशन के द्वारा बेटियों के खिलाफ हो रहे साजिश के खिलाफ आंदोलन की शुरुआत लखनऊ से की गई जिसके अंतर्गत पूरे उत्तर प्रदेश में जागरूकता अभियान को आंदोलन के रूप में जन जन तक पहुँचाया जाएगा। वार्ता के दौरान मुख्यतः जागरूक भारत, जागरूक समाज, जागरूक बेटियां विषय पर ही बात हुई।

सभा की अध्यक्षता उत्तर प्रदेश के पूर्व DGP श्री सुलखान सिंह जी ने की और मुख्य अतिथि के रूप में उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती विमला बाथम जी रही, और संस्था के मार्गदर्शक मुरारीदास दास जी और दुलारी देवी फाउंडेशन की निदेशक प्रीति पाण्डेय, कार्यक्रम के स्वागताध्यक्ष के रूप में श्री गणेश यादव जी और विशिष्ट अतिथि के रूप में श्रीमती इंदिरा दुबे जी रही।

पूर्व DGP सुलखान सिंह जी ने कहा कि विवाह एक पवित्र संस्था है और इसमें हमारा पूरा विश्वास होना चाहिए। मौजूदा कानून सिर्फ हिंदू-मुस्लिम के बीच धर्म परिवर्तन को लेकर नहीं है बल्कि यह किसी भी दो धर्म समुदाय के बीच धर्म परिवर्तन को लेकर है। इसे किसी खास धर्म विशेष का एजेंडा मानना सर्वथा अनुचित है। मौजूदा कानून अब तक पारित किए गए सभी कानूनों में सर्वोत्तम है।

महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती विमला बाथम ने विस्तार से लव-जेहाद की व्याख्या की और यह भी सुनिश्चित किया कि महिला आयोग ऐसे किसी भी प्रकार के अवैध धर्म परिवर्तन पर पीड़िता की शिकायत पर कार्रवाई करेगा।

मुरारी दास जी ने अपने संबोधन में लव-जेहाद के आजादी पूर्व षड्यंत्र को बताया तथा ऐसी किसी भी भावना से प्रेरित प्रयासों को राष्ट्र-विरोधी करार दिया।

READ MORE:   चीन को बिहार में बड़ा झटका! केंद्र सरकार ने चीनी कंपनियों से छीना मेगा प्रॉजेक्ट

प्रीति पांडेय जी ने सभी अतिथिगण को हार्दिक धन्यवाद देते हुए फाउंडेशन के विभिन्न जनसेवा के प्रयासों का उल्लेख किया। इन्होंने बताया कि झूठी और नाम बदलकर शादी करने के बाद धर्म परिवर्तन की घटनाएँ अब आम होती जा रही हैं जिसके लिए सरकार ने सह कानून पारित किया है।

गणेश यादव जी ने लव जेहाद को देश के लिए गंभीर समस्या बताया और कहा कि अंतरधर्म विवाह धर्म परिवर्तन के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है इसलिए इसे रोकना जरूरी है।

इस परिचर्चा में आये सभी अतिथियों ने दुलारी देवी फाउंडेशन के कार्यो की प्रशंशा करते हुए समाज के लिए एक सुधारक बताया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में दुलारी देवी फाउंडेशन की टीम में मोहिनी कुमारी, कीर्ति पाठक, काशी गुरुंग, पलक सिंह, चंचल पाठक, रवींद्र कुमार, अम्बरीश उपाध्याय, रोहित सिंह, सिद्धार्थ, अर्चना, आरती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *