6 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 50,580 करोड़ रुपये बढ़ा

आईसीआईसीआई बैंक के बाजार मूल्यांकन में 14,062.37 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई और यह 2,66,874.13 करोड़ रुपये रहा। कोटक महिंद्रा बैंक का बाजार पूंजीकरण 8,011.67 करोड़ रुपये बढ़कर 2,83,330.41 करोड़ रुपये, एचडीएफसी का 7,695.41 करोड़ रुपये बढ़कर 3,60,062.95 करोड़ रुपये, एचडीएफसी बैंक का 3,036.27 करोड़ रुपये बढ़कर 6,17,170.55 करोड़ रुपये और रिलायंस इंडस्ट्रीज का एमकैप […]

Continue Reading

NPCI अब Google Pay, PhonePe के पर कतरने की तैयारी में

UPI के सहारे सफलता हासिल करने वाली PhonePe और Google Pay जैसी कंपनियों को अब झटका लगने वाला है, क्योंकि नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने डिजिटल पेमेंट कंपनियों के लिए नए गाइडलाइन्स जारी किए हैं, ताकि UPI में कंसंट्रेशन और सिस्‍टमेटिक रिस्‍क को कम किया जा सके। NPCI द्वारा लागू महत्वपूर्ण प्रावधानों में […]

Continue Reading

बाजार में लौटी रौनक, Yes Bank के शेयरों में 6 फीसदी की तेजी

आज यस बैंक के अलावा टाटा मोटर्स में करीब 4 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। जबकि टाटा स्‍टील, वेदांता और महिंद्रा के शेयर भी 2 फीसदी के करीब कारोबार करते देखे गए। इसी तरह इंडसइंड बैंक, एसबीआई, सनफार्मा, एशियन पेंट, बजाज ऑटो और एलएंडटी के शेयर हरे निशान पर कारोबार कर रहे थे। वहीं […]

Continue Reading

अर्थव्यवस्था को बूस्ट करने के लिए सरकार का ‘32 सूत्री’ प्रहार

आर्थिक मंदी को लेकर चौतरफा हो रही तीखी बहस के बीच मोदी सरकार ने ‘32 सूत्री’ उपायों का एलान कर इसे तत्काल साधने का संकेत दे दिया है। निवेश बढ़ाने के उपाय, ऑटो सेक्टर को राहत से लेकर, बैंकिंग सिस्टम में लिक्विडिटी (तरलता) बढ़ाने और एमएसएमई कंपनियों के फंड की दिक्कत को दूर करने के […]

Continue Reading

आचार्य बालकृष्ण और बाबा रामदेव की जोड़ी ने बनाया 10 हजार करोड़ रुपये का साम्राज्य, क़र्ज़ से अर्श तक की कहानी

पतंजलि योगपीठ को देश ही नहीं दुनिया के भी फलक पर चमकाने में बाबा रामदेव के साथ ही आचार्य बालकृष्ण का बड़ा हाथ है। दोनों बाल सखा की जोड़ी ने अरबों का साम्राज्य यूं ही खड़ा नहीं किया। इसके लिए उन्होंने लंबे समय तक कड़ी मेहनत की है। जानकारी के अनुसार वर्तमान में पतंजलि समूह […]

Continue Reading

वो पांच संकेत जो बता रहे हैं भारत की अर्थव्यवस्था की दशा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वित्त वर्ष 2024-25 तक भारत को 5 ख़रब अमरीकी डॉलर वाली अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है। इस वक़्त भारत की अर्थव्यवस्था क़रीब 2.7 ख़रब अमरीकी डॉलर की है। आर्थिक सर्वे का अनुमान है कि प्रधानमंत्री मोदी के तय किए हुए लक्ष्य तक पहुंचने के लिए देश के जीडीपी को हर […]

Continue Reading