Delhi Metro Rail Corporation

दिल्ली मेट्रो में यात्रा के दौरान फाइन से बचना है तो जानिए ये नियम

दिल्ली देश

दिल्ली मेट्रो का परिचालन शुरू हुए 15 दिन हो गए हैं और Metro में अब प्रतिदिन करीब साढ़े 4 लाख यात्री सफर कर रहे हैं। ऐसे में सुबह व शाम को व्यस्त समय के दौरान मेट्रो में शारीरिक दूरी के नियम टूटने लगे हैं। कई यात्री मेट्रो में सफर के दौरान जानबूझकर भी कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। ऐसे 2214 यात्रियों पर दिल्ली Metro रेल निगम जुर्माना लगा चुका है। यह कार्रवाई मेट्रो में मास्क नहीं लगाने व शारीरिक दूरी के नियम का पालन नहीं करने पर की गई है। उन सभी यात्रियों पर 200-200 रुपये जुर्माना किया गया है।

डीएमआरसी ने नियम तोड़ने वाले यात्रियों से कुल 4 लाख 42 हजार 800 रुपये जुर्माना वसूल किया है। दरअसल, मास्क के बगैर मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश नहीं मिल पाता है, लेकिन सुरक्षा जांच के बाद कुछ यात्री मास्क हटा लेते हैं। वहीं, कुछ यात्री खाली छोड़ी गई सीट पर भी बैठ जाते हैं। यही नहीं शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए मेट्रो कोच के फर्श पर स्टीकर लगाए गए हैं, लेकिन व्यस्त समय में भीड़ होने पर यात्री इस नियम का भी पालन नहीं करते हैं। इस वजह से फ्लाइंग स्क्वायड की टीम ने यलो लाइन (समयपुर बादली-हुडा सिटी सेंटर) पर सबसे अधिक 724 यात्रियों पर जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा वायलेट लाइन (कश्मीरी गेट-बल्लभगढ़), ब्लू लाइन (द्वारका सेक्टर 21- नोएडा इलेक्ट्रॉनिक सिटी/वैशाली) पर कार्रवाई की गई है। यह तीनों दिल्ली Metro के सबसे व्यस्त कॉरिडोर हैं। डीएमआरसी 5 हजार लोगों की काउंसलिंग भी की गई है।
रेड लाइन- 134

यलो लाइन- 724

ब्लू लाइन- 545

वायलेट लाइन- 580

ग्रीन लाइन- 26

पिंक लाइन- 79

मजेंटा लाइन- 109

ग्रे लाइन- 17

गौरतलब है कि DELHI-NCR के लाखों लोगों की लाइफलाइन दिल्ली Metro के संचालन से काफी राहत मिली है। खासकर NCR के शहरों में आना-जाना आसान हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *