havy rain in Andhra Pradesh

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में बारिश का कहर,25 लोगों की मौत

देश

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में भारी बारिश ने लोगों पर जमकर कहर बरपाया है। दोनों राज्यों में लगभग 25 लोगों की मौत हो गई है। सबसे ज्यादा 15 मौतें तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में हुई हैं। आंध्र प्रदेश में 10 लोगों की जान गई है। इस बीच प्रधानमंत्री Narendra Modi ने बुधवार को तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव और आंध्र प्रदेश के CM वाईएस जगन मोहन रेड्डी से बात की।

हर मुमकिन मदद का भरोसा दिया

प्रधानमंत्री ने दोनों नेताओं को केंद्र की ओर से राहत और बचाव के कार्यों में हर मुमकिन मदद का भरोसा दिया।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘Telangana के CM केसीआर गारू और आंध्र प्रदेश के CM जगन गारू से उनके राज्यों में हो रही भारी बारिश की वजह से पैदा हुए हालात को लेकर बातचीत हुई। मैंने उन्हें राहत और बचाव के कार्यों में केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद देने का भरोसा दिया है। भारी बारिश से प्रभावित लोगों के प्रति सहानुभूति।’
राष्‍ट्रपति ने नुकसान पर चिंता जताई

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने Telangana की राज्यपाल तमिलसाई सुंदरराजन और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव से बातचीत की और लगातार हो रही भारी बारिश से जान-माल के नुकसान पर चिंता जताई। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा, ‘Telangana की राज्यपाल तमिलसाई और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के साथ बातचीत की। संकट की इस घड़ी में देश Telangana के लोगों के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है।’

हैदराबाद का सबसे बुरा हाल

प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक, भारी बारिश से Telangana के कई जिलों में सड़कें पानी से भर गई हैं। हैदराबाद का सबसे बुरा हाल है। यहां पानी के तेज बहाव से कई स्थानों पर जमीन खिसक गई है। राज्य सरकार ने गुरुवार तक सभी निजी संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया है। लोगों को फिलहाल घरों में रहने की सलाह दी गई है। शहरी विकास मंत्री केटी रामाराव और पशुपालन मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आपात बैठक कर बचाव एवं राहत कार्यों की समीक्षा की।
सभी जिले हाई अलर्ट पर

READ MORE:   केंद्र सरकार ने दी राज्य सरकार को चेतावनी, अगर घटाया ट्रैफिक चालान तो बर्खास्त किये जायेगे !

हैदराबाद के गगन पहाड़ क्षेत्र में दीवार गिरने से एक बच्चे सहित परिवार के 3 सदस्यों की मौत हो गई। जबकि, चंद्रींगुट्टा पुलिस स्टेशन की सीमा पर 2 घरों की दीवारों के गिरने में एक बच्चे सहित 10 लोगों की मौत हो गई। एक अन्य घटना में घर की छत गिरने से 40 वर्षीय महिला और उसकी बेटी की मौत हो गई। ग्रेटर हैदराबाद नगरपालिका अंतर्गत आने वाले कई इलाकों में भारी बारिश से जलजमाव हो गया है। राज्य के मुख्य सचिव सोमेश कुमार ने सभी जिलों को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है। खतरे के मद्देनजर हैदराबाद के कई इलाकों में बिजली आपूर्ति को रोक दिया गया है।

विजयवाड़ा-हैदराबाद राजमार्ग पर में ट्रैफिक जाम देखा गया। बताया गया है कि हैदराबाद में पिछले 20 साल से ऐसी भारी बारिश नहीं हुई थी। हैदराबाद की हुसैन सागर झील अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच चुकी है। शहर के कई निचले इलाकों में पानी भर गया है। यहां कई घरों में भी पानी भर चुका है। खैराताबाद, टोली चौकी, बोरबंदा, सिकंद्राबाद, अंबेरपेट, एल्बीनगर, वनस्थलीपुरम, हयातनगर और अब्दुल्लापुर इलाकों में तेज बारिश से स्थिति काफी खराब है।


वहीं आंध्र प्रदेश में पिछले 48 घंटे से हो रही बारिश से काफी नुकसान हुआ है। राज्य में लगभग 10 लोगों की मौत हो गई है। कई स्थानों पर बिजली की आपूर्ति को रोक दिया गया है। बारिश से कृष्णा नदी फिर से उफन गई है। मुख्यमंत्री YS Jaganmohan Reddy ने उच्च-स्तरीय बैठक कर स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने पीडि़त परिवारों को तुरंत मुआवजा देने का निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *