PM मोदी 11 जनवरी को सभी राज्यों के CM के साथ बैठक करेंगे, हो सकता है बड़ा एलान

NEWS Top News

अगले हफ्ते टीकाकरण शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री Narendra Modi सोमवार को सभी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। टीकाकरण की चाक चौबंद तैयारियों को परखने के लिए शुक्रवार को पूरे देश में एक बार फिर इसका पूर्वाभ्यास किया गया, जो स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पूरी तरह से सफल रहा है। इसके साथ ही मंत्रालय सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक के साथ Vaccine खरीद के समझौते को अंतिम रूप में देने जुट गया है। हालांकि, वैक्सीन की कीमत और सप्लाई की गारंटी को लेकर बातचीत अटकी हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि देश में बनी 2 वैक्सीन की पूरी दुनिया में मांग है, इसको देखते हुए यह जरूरी है कि यह सही और जरूरत मंद लोगों तक पहुंचे। इसीलिए प्रधानमंत्री Narendra Modi सोमवार को खुद मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर वैक्सीन वितरण की प्रक्रिया को सही तरीके से चलाने में उनकी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने की कोशिश करेंगे। गौरतलब है कि Corona काल में Lockdown और अनलॉक की प्रक्रिया के दौरान भी प्रधानमंत्री सभी मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठकें करते रहे हैं।देश के सभी जिलों में टीकाकरण के दूसरे पूर्वाभ्यास को सफल बताते हुए अधिकारी ने कहा कि सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं और अगले हफ्ते कभी भी लाभार्थियों को Vaccine देने का काम शुरू किया जा सकता है।


अभी तक राज्यों को वैक्सीन की सप्लाई शुरू नहीं होने के बारे में पूछे जाने पर अधिकारी ने कहा कि कीमत और सप्लाई की गारंटी को लेकर कंपनियों से बातचीत चल रही है। सीरम इंस्टीट्यूट सरकार को 200 रुपये प्रति डोज के हिसाब से Vaccine देने को तैयार है। लेकिन एक साथ करोड़ों डोज की खरीद का हवाला देते हुए सरकार कीमत को और कम कराने की कोशिश कर रही है।

READ MORE:   यूपी में तमाम पाबंदियों के साथ 20 से खुलेंगे सभी सरकारी कार्यालय

वहीं भारत बायोटेक भी सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन की तुलना में कम कीमत पर Vaccine सप्लाई करने का भरोसा दे रही है। वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार वैक्सीन की कीमत के साथ ही उसकी सप्लाई की गारंटी पर भी बात अटकी हुई है। सरकार दोनों कंपनियों से यह सुनिश्चित करना चाहती है कि हर हफ्ते वह कितनी Vaccine सप्लाई करेंगी। इन मुद्दों को लेकर बातचीत अंतिम दौर में है और समझौते पर कभी भी हस्ताक्षर किए जा सकते हैं।


पड़ोसी और सहयोगी देशों की भी फिक्र

सरकार पड़ोसी और अन्य सहयोगी देशों को भी प्राथमिकता के आधार पर Vaccine सप्लाई सुनिश्चित कराने की कोशिश कर रही है। वहीं सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक अपने स्तर पर दुनिया के कई देशों के साथ Vaccine सप्लाई की बातचीत कर रहे हैं, जहां उन्हें Vaccine की अच्छी कीमत मिलने की उम्मीद है। सीरम इंस्टीट्यूट ने इसके लिए दक्षिण अफ्रीका के साथ समझौता भी कर लिया है।

सीरम इंस्टीट्यूट ने लगभग 10 करोड़ डोज तैयार कर लिया है और उनमें से 5 करोड़ डोज की गुणवत्ता पर सेंट्रल ड्रग लेबोरेटरी की मुहर भी लग चुकी है। सीरम इंस्टीट्यूट ने प्राथमिकता के आधार पर देश को Vaccine उपलब्ध कराने का भरोसा दिलाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *