‬ Assembly Elections

Assembly Elections: डेढ़ साल,11 राज्य, जानिए, सबसे पहले किस राज्य का है नंबर

अगले डेढ़ साल में 11 राज्यों में विधानसभा के चुनाव (Assembly Elections) होने वाले हैं। सबसे पहले नंबर आयेगा गुजरात का। इसके साथ ही हिमाचल प्रदेश में भी विधानसभा चुनाव कराये जायेंगे। इन दोनों राज्यों के विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) इस साल के अंतिम महीने यानी दिसंबर 2022 में कराये जायेंगे। गुजारत में 182 विधानसभा सीट के लिए चुनाव कराये जायेंगे, तो हिमाचल प्रदेश में 68 सीटों के लिए चुनाव होंगे।

2023 में 9 राज्यों में होंगे चुनाव
इसके बाद अगले साल यानी वर्ष 2023 में 9 राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) होंगे। सबसे पहले मध्यप्रदेश में चुनाव होने हैं। भारतीय जनता पार्टी शासित इस राज्य की 230 विधानसभा सीटों के लिए जनवरी 2023 में चुनाव कराये जायेंगे। इसके बाद पूर्वोत्तर के 3 राज्यों में एक साथ चुनाव कराये जायेंगे। मेघालय, नगालैंड और त्रिपुरा में मार्च 2023 में वोटिंग होंगी। मेघालय, नगालैंड और त्रिपुरा में 60-60 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होंगे।

कर्नाटक में मई में, इन 4 राज्यों में दिसंबर होगी वोटिंग
इसके बाद नंबर आयेगा कर्नाटक का। दक्षिण भारत के इस राज्य में भी इस वक्त भारतीय जनता पार्टी की ही सरकार है। यहां की 224 विधानसभा सीटों के लिए मई 2023 में चुनाव कराये जायेंगे। कर्नाटक के बाद दिसंबर में एक साथ 4 राज्यों में चुनाव कराये जायेंगे। छत्तीसगढ़, मिजोरम, राजस्थान और तेलंगाना में दिसंबर 2023 में चुनाव कराये जायेंगे।

चार राज्यों में सत्ता से दूर है भाजपा
छत्तीसगढ़ में 90 सीटों पर वोटिंग होना है, जबकि मिजोरम में 40 सीटों पर. राजस्थान में 200 सीटों के लिए वोटिंग होगी, जबकि तेलंगाना में 119 सीटों के लिए विधानसभा के चुनाव कराये जायेंगे. इन चार में से किसी भी राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार नहीं है.

क्षेत्रीय दलों के साथ कांग्रेस का है बोलबाला
मिजोरम में क्षेत्रीय पार्टी मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) की अगुवाई में सरकार चल रही है, तो छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है। तेलंगाना में क्षेत्रीय दल तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की सरकार है। भारतीय जनता पार्टी इनमें से कम से कम 2 राज्य में फिर से सरकार बनाने की कोशिश करेगी। राजस्थान और छत्तीसगढ़ में वर्ष 2018 तक भाजपा की सरकार थी, जो कांग्रेस ने उससे छीन ली थी।