तो क्या देश में कहीं भी वोट डाल सकेंगे लोग? चुनाव आयोग कर रहा है हाई-टेक परियोजना पर काम

elections NEWS टेक्नोलॉजी देश राज्य

Remote Voting Project: लोगों को एमपी-एमएलए के चुनाव में वोट डालने के लिए अब अपने गांव, क्षेत्र में जाने की जरूरत नहीं होगी। चुनाव आयोग (Election Commission of India) एक ऐसी योजना पर काम कर रहा है, जिसके बाद लोग शहर में रहते हुए भी अपने पैतृक स्थानों के लिए वोट डाल पाएंगे।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने बताया कि चुनाव आयोग (Election Commission India) ने इस परियोजना को रिमोट वोटिंग (Remote Voting Project) का नाम दिया है। इसके लिए जल्द ही देश भर में मॉक ट्रायल की शुरुआत की जाएगी।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर मीडिया को संबोधित करते हुए सुनील अरोड़ा ने कहा कि IIT मद्रास और अन्य संस्थानों के साथ मिलकर रिमोट वोटिंग के प्रोजेक्ट पर पहले ही रिसर्च शुरू हो गया है। वोटर को देश के किसी भी मतदान केंद्र पर वोट देने की योजना पर आयोग काम कर रहा है।

उन्होंने कहा कि लाखों लोग नौकरी और काम धंधों की तलाश में बाहर जाकर काम करते हैं। इनमें से बहुत सारे लोग सांसद-विधायक के चुनाव में वोट डालने के लिए अपने गांव लौटने को मजबूर होते हैं। इस रिमोट वोटिंग प्रोजेक्ट के सफल होने के बाद वोटर किसी भी मतदान केंद्र पर वोट डाल सकेगा। इसके साथ ही विदेश में रह रहे मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलट शुरू करने की संभावना पर कानून मंत्रालय फिलहाल विचार कर रहा है।

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने कहा कि असम, केरल, पुडुचेरी, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में चुनाव हो सकते हैं। इसके लिए संबंधित विभागों के साथ तैयारियां की जा रही हैं। हालात देखने के बाद जल्द ही इन राज्यों के लिए चुनावों कार्यक्रम की घोषणा की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *