Rahul Gandhi News

Rahul Gandhi News: राहुल गांधी ने दिल खोलकर बताई, कब और किससे करेंगे शादी

Rahul Gandhi News: कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपनी शादी को लेकर पहली बार बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि शादी के लिए उन्हें एक सही लड़की का इंतजार है। जैसे ही सही लड़की मिलेगी तो वह शादी करेंगे। उन्होंने कहा कि उनके माता-पिता की ‘शादीशुदा जिंदगी बेहद खुशहाल थी’, इसलिए अपनी जीवनसंगिनी को लेकर उनकी अपेक्षाएं काफी ज्यादा हैं। यू-ट्यूब पर फूड एवं ट्रेवल मंच ‘कर्ली टेल्स’ के साथ हल्की-फुल्की बातचीत में राहुल (52) ने राजनीति से इतर कई विषयों पर चर्चा की, जिनमें उनके बचपन की यादों से लेकर पसंदीदा व्यंजन और व्यायाम से लगाव तक शामिल है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने स्पष्ट किया कि उन्हें शादी करने में कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन अपने पिता राजीव गांधी और मां सोनिया गांधी की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा, “मेरे माता-पिता की शादीशुदा जिंदगी बेहद खुशहाल थी और वे एक-दूसरे से बेइंतेहां प्यार करते थे, इसलिए मेरी अपेक्षाएं बहुत ज्यादा हैं।” राहुल ने कहा, “सही लड़की मिलने पर मैं शादी कर लूंगा। मेरा मतलब है कि जब वो मिलेगी, तो अच्छा रहेगा।” यह पूछे जाने पर कि क्या अपनी जीवनसंगिनी की खूबियों को लेकर उन्होंने कोई सूची बना रखी है, राहुल ने कहा, ‘नहीं! मुझे केवल एक प्रेम करने वाली लड़की चाहिए, जो समझदार भी हो।’

खाने में है कुछ भी पसंद
‘भारत जोड़ो यात्रा’ के राजस्थान चरण में राहुल के कंटेनर के बाहर ‘डिनर’ के दौरान हुई इस बातचीत का वीडियो कांग्रेस ने रविवार को ट्विटर पर साझा किया। वीडियो में राहुल यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि वह खाने में ज्यादा मीन-मेख नहीं निकालते और जो कुछ भी उपलब्ध रहता है, खा लेते हैं, लेकिन उन्हें ‘मटर और कटहल’ पसंद नहीं है। सितंबर 2022 में तमिलनाडु के कन्याकुमारी से ‘भारत जोड़ो यात्रा’ शुरू करने वाले राहुल फिलहाल जम्मू-कश्मीर में हैं। बातचीत में उन्होंने कहा कि घर पर वह अपने खानपान को लेकर ‘बहुत सख्त’ हैं, लेकिन “यात्रा के दौरान उनके पास ज्यादा विकल्प नहीं हैं।”

राहुल को देसी खाना और मांसाहार है पसंद
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि तेलंगाना का भोजन उनके हिसाब से ‘थोड़ा तीखा और चटपटा है।’ उन्होंने कहा, “वहां के खाने में मिर्च थोड़ी ज्यादा रहती थी। मैं इतनी ज्यादा मिर्च नहीं खाता।” यह पूछे जाने पर कि उनके घर पर कैसा खाना बनता है, राहुल ने बताया कि दिन में “देसी खाना” बनता है और रात में कोई कॉन्टिनेंटल (यूरोपीय देशों का) व्यंजन. उन्होंने कहा कि वह संयमित आहार लेते हैं और मीठा खाने से परहेज करते हैं। राहुल ने बताया कि वह ‘मांसाहार के शौकीन हैं’ और उन्हें चिकन, मटन और समुद्री आहार, सब पसंद है. पसंदीदा व्यंजन के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्हें चिकन टिक्का, सीख कबाब और ऑमलेट खाना अच्छा लगता है। उन्होंने यह भी बताया कि वह सुबह एक कप कॉफी पीना पसंद करते हैं।

मैं कश्मीरी पंडित परिवार से, दादा थे पारसी
राहुल ने कहा कि वह एक कश्मीरी पंडित परिवार से ताल्लुक रखते हैं, जो उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद (अब प्रयागराज) में बस गया था. अपने दादा फिरोज खान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “मेरे दादा एक पारसी थे। इसलिए मैं पूरी तरह से मिश्रित (नस्ल का) हूं.” राहुल ने कहा कि उनकी दादी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद उनकी पढ़ाई-लिखाई घर पर ही हुई. उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद उनके पिता राजीव गांधी प्रधानमंत्री बने थे।

उन्होंने उस समय को करते हुए कहा, “यह वाकई में सदमे जैसे था. सुरक्षाकर्मियों ने कहा कि हम स्कूल नहीं जा सकते। मैं एक बोर्डिंग स्कूल में पढ़ाई कर रहा था, लेकिन दादी की हत्या से पहले उन्होंने हमें वहां से निकाल लिया था। जब दादी की हत्या हो गई, तब उन्होंने हमें वापस नहीं जाने दिया।” राहुल ने कहा कि स्कूल में कुछ शिक्षक उनसे बहुत अच्छी तरह से पेश आते थे, लेकिन कुछ उनके परिवार की गरीब-हितैषी राजनीति के कारण उनके साथ रूखा व्यवहार करते थे।

राहुल गांधी ने सेंट स्टीफन से हार्वर्ड यूनिवर्सिटी तक पढ़ाई का किया जिक्र
राहुल से उनकी उच्च शिक्षा के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “मैं एक साल सेंट स्टीफन में था और मैंने वहां इतिहास की पढ़ाई की. इसके बाद मैं हार्वर्ड विश्वविद्यालय चला गया, जहां मैंने अंतरराष्ट्रीय संबंध और राजनीति विज्ञान की पढ़ाई की।” कांग्रेस नेता ने बताया कि मई 1991 में राजीव गांधी की हत्या के बाद सुरक्षा संबंधी चिंताएं पैदा हो गईं। राहुल ने कहा कि उन्हें फ्लोरिडा के रोलिंस कॉलेज भेज दिया गया, जहां उन्होंने अंतरराष्ट्रीय संबंध और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की। उन्होंने बताया कि उनके पास ब्रिटेन के कैंब्रिज विश्वविद्यालय से ‘डेवलपमेंट इकोनॉमिक्स’ में ‘मास्टर्स डिग्री’ भी है।
राहुल ने की मॉनिटर कंपनी में नौकरी, सैलरी थी 3 हजार पाउंड
अपनी पहली नौकरी के बारे में राहुल ने बताया कि उन्होंने लंदन की रणनीतिक सलाहकार फर्म ‘मॉनिटर कंपनी’ में सेवा दी और तब वह 24-25 साल के रहे होंगे। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने बताया कि उन्हें पहली तनख्वाह के रूप में ढाई से तीन हजार पाउंड का चेक मिला था। राहुल ने कहा कि अगर वह प्रधानमंत्री बनेंगे, तो तीन चीजें करेंगे, पहली-शिक्षा प्रणाली में बदलाव, दूसरी-लघु एवं मध्यम उद्यमों की सहायता और तीसरी-मुश्किल दौर से गुजर रहे लोगों, जैसे कि किसानों और बेरोजगार नौजवानों की मदद।

राहुल ने खोला फिटनेस का राज, रोज सिखाते हैं मार्शल आर्ट
फिटनेस के लिए सुर्खियां बटोर रहे राहुल ने स्कूबा डाइविंग, फ्री डाइविंग, साइक्लिंग, बैकपैकिंग (अकेले घूमने की आदत) और मार्शल आर्ट एकिदो में अपनी दिलचस्पी के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा, “मैं कॉलेज में मुक्केबाजी करता था। मैंने हमेशा कोई न कोई व्यायाम किया है. मार्शल आर्ट बहुत सुविधाजनक हैं। वे हिंसक होना नहीं सिखाते, बल्कि इसके बिल्कुल विपरीत हैं. लेकिन मार्शल आर्ट की गलत व्याख्या की जाती है कि लोगों को नुकसान पहुंचाओ, उन पर हमला करो. अगर आप इसके उद्देश्य को अच्छी तरह से समझेंगे तो ये आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होंगे।” राहुल ने बताया कि वह यात्रा के दौरान रोजाना मार्शल आर्ट की एक ‘क्लास’ लेते हैं।

India beat new Zealand 3-0. भारत ने किया कीवियों का सूपड़ा साफ, बने नम्बर 1 Kisi Ka Bhai Kisi Ki Jaan | शाहरुख की पठान के साथ सलमान के टीजर की टक्कर, पोस्टर रिवील 200करोड़ की ठगी के आरोपी सुकेश ने जैकलीन के बाद नूरा फतेही को बताया गर्लफ्रैंड, दिए महँगे गिफ्ट #noorafatehi #jaqlein #sukesh क्या कीवी का होगा सूपड़ा साफ? Team India for third ODI against New Zealand #indiancricketteam KL Rahul Athiya Wedding: Alia, Neha, Vikrant के बाद राहुल अथिया ने की बिना तामझाम के शादी