Bihar Election 2020

बिहार का रण: तेजस्‍वी अब सीधे राहुल से करेंगे बात, गठबंधन पर बड़ा फैसला आज!

NEWS Top News

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर Mahagathbandhan के लिए आज अहम दिन है। कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के कड़े बयान से नाराज राष्‍ट्रीय जनता दल नेता Tejashwi Yadav अब सीधे कांग्रेस आलाकमान Sonia Gandhi एवं Rahul Gandhi से बात करेंगे। बिहार के नेताओं को दरकिनार कर सीधे कांग्रेस नेतृत्‍व से इस बातचीत को RJD की तरफ से अंतिम कोशिश के रूप में देखा जा रहा है। विदित हो कि कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने Tejashwi Yadav के अनुभव व योग्‍यता पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि अगर सीटों की बात नहीं बनी तो कांग्रेस हर स्थिति के लिए तैयार है। महागठबंधन की इस स्थिति को लेकर सियासी बयानबाजी भी शुरू हो गई है।


विदित हो कि विधानसभा चुनाव को लेकर महागठबंधन में Seat Sharing का पेंच फंसा हुआ है। RJD करीब 150 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहता है। कांग्रेस अपने लिए 70 से 80 सीटें मांग रही है, लेकिन RJD 65 से अधिक देने के लिए तैयार नहीं है। कांग्रेस किसी समझौते के मूड में नहीं है। इसे लेकर कांग्रेस के कई नेताओं के बयान पहले भी आ चुके हैं। इस बीच बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के ताजा बयान से Tejashwi Yadav बेहद नाराज बताए जा रहे हैं।

शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि युवा Tejashwi Yadav में अनुभव की कमी है, उन्‍हें कोई गुमराह कर सकता है। अगर लालू प्रसाद यादव जेल में नहीं रहते तो यह मामला सुलझ गया होता। गोहिल ने चेतावनी दी कि कांग्रेस व RJD के अलग-अलग चुनाव लड़ने पर RJD को नुकसान होगा। उन्‍होंने यह चेतावनी भी दी कि कांग्रेस अपने सहयोगियों के साथ मिल कर कोई भी फैसला कर सकती है। RJD नेता मृत्‍युंजय तिवारी ने इसका जवाब देते हुए कहा है कि कांग्रेस अपनी हठधर्मिता छोड़ RJD की बात मान ले तथा महागठबंधन के मुख्‍यमंत्री चेहरा तेजस्‍वी पर सवाल न उठाए। कांगेस छेड़ेगी तो RJD उसे नहीं छोड़ेगी।

READ MORE:   विधानसभा में नहीं काम आया RJD का पैंतरा, अवध बिहार चौधरी को मिले 114 वोट

बताया जाता है कि नाराज Tejashwi Yadav अब प्रदेश स्‍तर के नेताओं से बातचीत नहीं करेंगे। वे शुक्रवार को राहुल गांधी बात करेंगे। उनकी बात सोनिया गांधी से भी हो सकती है। माना जा रहा है कि तेजस्‍वी व राहुल की महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत के बाद देर रात तक कोई फैसला हो जाएगा। विदित हो कि बीते Lok Sabha Election के दौरान भी महागठबंधन में सीटों को लेकर ऐसे ही हालात थे। उस वक्‍त भी तेजस्‍वी ने राहुल से बातचीत कर अंतिम समय में समस्‍या का हल निकाला था।
शुरू हो गई सियासी बयनबाजी

राहुल व तेजस्‍वी की बातचीत में क्‍या फैसला होगा, इसके कयास लगाए जा रहे हैं। इसपर सियासी बयानबाजी भी तेज होती दिख रही है। कांग्रेस नेता Akhilesh Singh ने डैमेज कंट्रोल की कोशिश करते हुए कहा है कि गठबंधन बना रहेगा। दो दिनों में सबकुछ साफ हो जाएगा। उधर, (BJP के प्रवक्‍ता निखिल आनंद ने तंज कसा है कि महागठबंधन का नेतृत्‍व तेजस्‍वी के बूते की बात नहीं है।
स्क्रीनिंग कमिटी के चेयरमैन अविनाश पांडेय और बिहार के प्रभारी कांग्रेस महासचिव शक्ति सिंह गोहिल ने गुरूद्वारा रकाबगंज रोड स्थित पार्टी के वार रूम में सुबह से देर रात तक सभी सीटों पर चुनाव लडने की वैकल्पिक रणनीति तैयार रखने को लेकर सूबे के नेताओं से मैराथन चर्चा की। इस बैठक के दौरान प्रदेश के प्रभारी सचिवों के अलावा बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष मदनमोहन झा और विधायक दल के नेता सदानंद सिंह भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *