CONGRESS

क्या अस्तबल से सब घोड़े भाग जाएंगे तब जागेगी कांग्रेस?-कपिल सिब्बल

NEWS Top News

लखनऊ- राजस्थान की सियासत में पिछले दो दिन से घमासान मचा हुआ है। राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार खतरे में घिर गयी है। मुख्यमंत्री Ashok Gehlot और उप मुख्यमंत्री Sachin Pilot के बीच आपसी खींचतान ने सरकार का भविष्य अनिश्चित कर दिया है। स्थिति कुछ वैसी ही बन रही है, जैसी कुछ दिन पूर्व मध्य प्रदेश में बनी थी और मुख्यमंत्री कमलनाथ को CM की कुर्सी से हाथ धोना पड़ा था। मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही पार्टी की सरकार गिराई थी तो अब राजस्थान में सचिन पायलट कुछ ऐसी ही भूमिका में हैं।

राजस्थान सरकार पर मंडरा रहे इस खतरे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व केन्द्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने पार्टी नेतृत्व को आगाह किया है। सिब्बल ने पार्टी नेतृत्व से पूछा है कि क्या हम घोड़ों के अस्पताल से भाग जाने के बाद जागेंगे। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने रविवार को एक ट्वीट में यह बात कही। हालांकि उन्होंने किसी मुद्दे का जिक्र नहीं किया है, लेकिन सिब्बल का इशारा साफ है कि वह किन घोड़ों के भागने की बात कर रहे हैं।

CM गहलोत ने BJP पर लगाया आरोप


पिछले 2 दिन से राजस्थान की सियासत में उथल-पुथल मची हुई है। मुख्यमंत्री Ashok Gehlot और डिप्टी सीएम Sachin Pilot के बीच जोर-आजमाइश तो काफी पुरानी है। लेकिन अब विधायकों की खरीद-फरोख्त आरोप-प्रत्यारोप ने मामला तूल पकड़ लिया है। मुख्यमंत्री गहलोत ने BJP पर उनकी सरकार अस्थिर करने का आरोप लगाया है। CM गहलोत ने कहा है कि BJP उनके विधायकों को खरीदने के लिए 15 से 20 करोड़ तक का ऑफर दे रही है।

इसी बीच रविवार को Sachin Pilot अचानक दिल्ली पहुंचे। यहां उन्होंने पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। सूत्रों के अनुसार पायलट ने सोनिया गांधी से मुख्यमंत्री Ashok Gehlot की शिकायत की है। वहीं राजस्थान BJP ने मुख्यमंत्री के आरोपों का खारिज करते हुए इसे कांग्रेस और सरकार की आंतरिक कलह करार दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *