SPG Team Arrived in Ayodhya

पीएम मोदी के आगमन को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट

NEWS Top News

रामनगरी अयोध्या में पांच अगस्त को भव्य श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन तथा शिलान्यास कार्यक्रम को लेकर अन्य तैयारियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को लेकर व्यवस्था काफी चाक-चौबंद की जाएगी। आतंकी हमले के इनपुट को देखते हुए यहां की सुरक्षा की निगरानी व समीक्षा के लिए SPG का एक दस्ता अयोध्या पहुंच गया है। इसके साथ ही Coronavirus के संक्रमण के बचाव के भी इंतजाम को अंजाम दिया जा रहा है।

अयोध्या से सटे बस्ती मंडल में भी हाई अलर्ट

अयोध्या में 5 अगस्त को PM नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर बस्ती मण्डल में हाई अलर्ट जारी किया गया है। बस्ती मंडल के IG अनिल कुमार सभी व्यवस्थाओं का जायजा लिया है। इसके साथ ही लोगों से अपील की है कि 5 अगस्त को बिना आमंत्रण के अयोध्या न जाएं। बस्ती मंडल की सीमा अयोध्या जिले के साथ पड़ोसी देश नेपाल से भी लगती है। ऐसे में यहां 5 अगस्त के कार्यक्रम को लेकर पूरी चौकसी बरती जा रही है। नेशनल हाई-वे 27 समेत बस्ती मण्डल के सभी छोटे-बड़े प्रवेश मार्गों पर बैरियर लगाया गया है। यहां चेकिंग की जा रही है और जल मार्गों पर कड़ी निगरानी रखने के लिए पीएसी के साथ जल पुलिस की तैनाती की गई है। IG अनिल कुमार राय हाई-वे पर पुलिस की चेकिंग का निरीक्षण कर रहे हैं। बस्ती से सट कर बह रही सरयू नदी के जलमार्ग का भी निरीक्षण करते हुए सुरक्षाकर्मियो को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। संदिग्ध लोगों पर भी निगाह रखी जाएगी। सुरक्षा एजेंसियों के साथ मिलकर नेपाल सीमा पर भी पुलिस चौकसी बरती जा रही है।


पीएम मोदी की सुरक्षा को लेकर स्थानीय पुलिस व प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम का खाका तैयार किया है। PM प्रोटोकॉल के मुताबिक सुरक्षा व्यवस्था की गई है, लेकिन अंतिम निर्णय SPG को ही लेना है। फिलहाल स्थानीय अधिकारी इस विषय में कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है। इसके साथ ही यहां पर एक विशेष टीम Coronavirus संक्रमण को लेकर भी मुस्तैद की है। वह आज से ही यहां पर सैनिटाइजेशन का काम शुरू कर देगी।


प्रदेश के आला अधिकारी शुक्रवार से ही यहां जमे हैं जबकि CM योगी आदित्यनाथ भी 2 अगस्त को डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा के साथ अयोध्या आकर यहां पर व्यवस्थओं का जायजा लेंगे। इससे पहले शुक्रवार को मुख्य सचिव व डीजीपी के निरीक्षण में Coronavirus से बचाव का मुद्दा छाया रहा। रामजन्मभूमि परिसर के सहायक पुजारी सहित पुलिसकर्मियों के Corona पॉजिटिव आने के बाद परिसर को संक्रमण मुक्त बनाने की योजना तैयार की गई है। यहां पर निरीक्षण व तैयारी समीक्षा के बाद यह तय किया गया है कि परिसर के सैनिटाइजेशन के लिए लखनऊ से विशेष दस्ता भेजा जाएगा। अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने कहा कि कार्यक्रम स्थल को सैनिटाइज करने के लिए लखनऊ से आधा दर्जन से ज्यादा विशेष टीमें भेजी जाएगी।

चार को सील हो जाएंगी अयोध्या की सीमाएं

अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन से पहले सुरक्षा-व्यवस्था के हर पहलू को पूरी बारीकी से देखा जा रहा है। अयोध्या में परिंदा भी पर न मार सके, इसके लिए छतों पर ATS के स्नाइफर तैनात रहेंगे। ड्रोन कैमरे से भी कड़ी निगरानी की जाएगी। रात को नाइट विजन डिवाइस से चप्पे-चप्पे पर कड़ी नजर रखी जाएगी। DGP हितेश चंद्र अवस्थी ने बताया कि सादे कपड़ों में भी पुलिसकर्मी चारों ओर मुस्तैद रहेंगे। 4 अगस्त को अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी।

सुरक्षा को लेकर कड़े निर्देश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या आगमन से पूर्व शुक्रवार को अयोध्या में प्रमुख सचिव राजेंद्र तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी व DGP हितेश चंद्र अवस्थी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने सुरक्षा-व्यवस्था की तैयारियों की समीक्षा की और कई कड़े निर्देश दिए। DGP ने कहा कि पुलिसकर्मी मास्क व फेस शील्ड पहनकर ही सुरक्षा ड्यूटी करेंगे। 4 अगस्त को अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी। इसके अलावा दमकल वाहन से पूरे क्षेत्र में सैनीटाइजेशन कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं। शारीरिक दूरी का अनुपालन करने के लिए भी कड़े निर्देश दिए गए हैं। प्रधानमंत्री के आगमन के रिहर्सल तथा ब्रीफिंग के प्रभारी ADG लखनऊ जोन होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *