cm yogi adityanath

उत्तर प्रदेश में 8 लाख और ग्रामीण गरीबों को मिलेगा खुद का घर,यूपी सरकार के प्रस्ताव पर केंद्र की मुहर

मार्च 2024 तक उत्तर प्रदेश के 8 लाख गरीब ग्रामीणों को उनका आशियाना मिलने जा रहा है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत ये आवास बनाए जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) के इस प्रस्ताव को केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय से स्वीकृति मिल गई है। साथ ही केंद्र की तरफ से इन आवासों के निर्माण के लिए 10 हजार करोड़ की धनराशि भी स्वीकृत कर दी गई है।

सभी को पक्का घर योजना के तहत 8 लाख से अधिक आवास को केंद्र से स्वीकृति मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) और केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय का आभार जताया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “‘सबको घर-पक्का घर’ हेतु आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की प्रतिबद्धता सर्वविदित है. इसी क्रम में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए उत्तर प्रदेश को 8,62,767 घरों का अतिरिक्त आवंटन किया गया है।

अब तक 27 लाख गरीबों को मिल चुके हैं आवास
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत उत्तर प्रदेश में अब तक 27 लाख लोगों को आवास उपलब्ध कराए गए हैं। अब केंद्र की तरफ से 8,62,767 घरों के निर्माण के लिए धनराशि स्वीकृत किए जाने के बाद यूपी देश का पहला राज्य होगा जहां 35 लाख से अधिक ग्रामीण गरीबों को उनका पक्का आशियाना मिल जाएगा। इन सभी आवासों का निर्माण मार्च 2024 तक पूरा कर लिया जाएगा।